वित्तमंत्री ने हल्द्वानी में शुरू की 06 करोड 46 लाख की योजनायें

सूबे की वित्तमंत्री डा0 श्रीमती इन्दिरा हृदयेश ने अपनी विधानसभा के कई क्षेत्रों मे 06 करोड 46 लाख की सडकों एवं सम्पर्क मार्गो का वैदिक मंत्रो के बीच लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। डा0 हृदयेश ने वार्ड न.13, वैलाजाॅली लाॅज में 12 लाख से निर्मित होने वाले 0.200 मीटर सीसी मार्ग तथा अम्बिका विहार फेस 01 व 02 में 89 लाख की लागत से बनने वाले आन्तरिक मार्गो कुल लागत 01 करोड 01 लाख का लोकार्पण किया।

वित्तमंत्री द्वारा 05 करोड 45 लाख की लागत से बनने वाले सडकों व आन्तरिक मार्गो का शिलान्यास किया। वार्ड 24 गफूरबस्ती में 0.45 लाख की लागत से 0.940 किमी आन्तरिक मार्ग तथा वनभूलपुरा में 05 करोड की लागत से बनने वाले 05 किमी आन्तरिक मार्गो के निर्माण कार्यो की आधारशिला रखी। हल्द्वानी के बडे कब्रिस्तान के लिए 01 करोड 65 लाख व छोटे कब्रिस्तान के लिए 47 लाख की धनराशि विभिन्न कार्यों के लिए सरकार द्वारा स्वीकृत कर दी गयी है।

कार्यक्रम स्थलो पर आयोजित जनसभाओं मे उपस्थित जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुये वित्तमंत्री डा0 हृदयेश ने कहा कि सडकें विकास की रीड है विकास का पहियां सडकों से होकर गुजरता है। सडक, बिजली पानी व स्वास्थ्य हमारी सरकार की प्राथमिकता है। वित्तीय संसाधनों का अभाव होने के बाद भी हमने विकास कार्यो को रोका नही है। हमारा उद्देश्य है कि जनमानस को अधिक से अधिक सुविधायें मिले उन्होने कहा कि प्रदेश के साथ ही हल्द्वानी विधानसभा का विकास उनकी प्राथमिकता में शामिल है। इसके चलते गौलापार ग्रेटर हल्द्वानी में 200 करोड की लागत से अन्र्राष्ट्रीय स्र्पोटस स्टेडियम तथा 100 करोड की लागत से आधुनिकतम चिडियाघर का निर्माण किया जा रहा है।

उन्होने कहा कि गौलापार मे 80 करोड की लागत से बनने वाले आधुनिकतम अन्राज्जीय बस अडडे का अगस्त माह मे शिलान्यास किया जायेगा। इस बस अडडे के शिलान्यास से हल्द्वानी शहर के भारी वाहनो का दबाव काफी हद तक कम होगा।उन्होने कहा कि हल्द्वानी महानगर को पार्को के शहर के रूप में विकसित किया जा रहा है। हल्द्वानी शहर में कई क्षेत्रो में नई सीवर लाइन डालने का सर्वे पूरा कर लिया गया है। जिसके लिए जल्द ही धनराशि आवंटित कर दी जायेगी। विकास हमारी संस्कृति एवं परम्परा है। उन्होनें वैलाजाॅली लाॅज में सड़क मरम्मत के साथ ही 02 शौचालय बनाने व अम्बिका विहार व शान्ति नगर में पुरानी सड़क मरम्मत के साथ ही, पुरानी पेयजल लाईन के बदले नई पेयजल लाईन डालने व नालियां बनाने की घोषणा की।