मुस्लिम धर्म प्रचारक ज़ाकिर नाईक के ‘लिंक’ अब पाकिस्तानी आतंकी हाफिज सईद से जुड़े

इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक के तार अब आतंकी हाफिज सईद से जुड़ गए हैं। जमात-उद-दावा जो पाकिस्तानी आतंकी हाफिज सईद का संगठन है, की वेबसाइट पर जाकिर के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) का लिंक मिला है। यही नहीं, आईआरएफ की साइट पर भी जमात-उद-दावा के ट्रेनिंग प्रोग्राम का पूरा ब्योरा दिया गया है।

यह खुलासा ऐसे समय हुआ है जब बांग्लादेश में हुए आतंकी हमलों में जाकिर के उपदेशों का जिक्र आया है। इसके बाद से भी विवादित मुस्लि‍म धर्म प्रचारक को बैन करने की मांग तेज हो गई है। तमाम विरोध और विवाद के बीच महाराष्ट्र सरकार ने जाकिर नाइक के भाषणों की जांच के आदेश दे दिए हैं, वहीं केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने भी नाइक के उपदेशों को आपत्ति‍जनक बताते हुए कार्रवाई के संकेत दिए हैं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को जाकिर नाइक के ऊपर लगे आरोपों की जांच करने के आदेश दिए हैं और जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपने को कहा है। हालांकि, नाइक के साथ अभी तक किसी आतंकी घटना के तार नहीं जुड़े हैं। उनके खि‍लाफ जो भी मामले हैं वो घृणा फैलाने के हैं।
दूसरी ओर, जाकिर नाइक ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने कहा है कि जो भी मरने-मारने की बात करता है वह कुरान की खि‍लाफत कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘आतंकियों को निश्चय ही निर्दोषों को मारने के लिए गुमराह किया गया होगा। भारतीय मीडिया कह रही है कि मैं आतंकियों को उकसा रहा हूं, जो पूरी तरह गलत है। मैं इस बात से इनकार करता हूं कि मैंने किसी को निर्दोष लोगों की हत्या करने के लिए प्रेरित किया। मैं आतंकवाद के पूरी तरह खि‍लाफ हूं।’

मोदी सरकार ने मुस्लि‍म धर्म प्रचारक के भाषणों को अत्यंत आपत्तिजनक बताया है। गृह मंत्रालय इनका अध्ययन करने के बाद उचित कार्रवाई करेगा। सूचना और प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा, ‘गृह मंत्रालय अध्ययन करेगा. उनका अध्ययन करने के बाद उचित कार्रवाई करेगा। मीडिया में आ रहे उनके भाषण अत्यंत आपत्तिजनक हैं।’