पुरी : 9 दिवसीय जगन्नाथ रथ यात्रा के पहले दिन 9 लाख लोगों ने देखी रथ यात्रा

fdgdfgdfg

कड़ी सुरक्षा के बीच अनुमानित नौ लाख भक्तों ने धार्मिक उत्साह के साथ बुधवार को भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा देखी। भगवान जगन्नाथ, भगवान बलभद्र और देवी सुभद्रा की नौ दिन की यात्रा की शुरुआत देखने के लिए दुनियाभर से लाखों श्रद्धालु इस धार्मिक नगरी में इकट्ठा हुए हैं।

इसमें अति विशिष्ट लोगों में ओड़िशा के राज्यपाल एस.सी. जमीर, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और ओड़िशा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायधीश विनीत शरण शामिल थे। पटनायक ने रथ खींचने में भी हिस्सा लिया।

20 जून को ‘स्नान पूर्णिमा’ से ही भगवान भीतर थे, इसलिए श्रद्धालुओं में जोश और उत्साह काफी अधिक था। भगवान का ‘नब यौवन दर्शन’ मंगलवार को किया गया, क्योंकि वे स्नान पूर्णिमा के बाद से ही अनासर पिंडी में थे।

पुलिस महानिदेशक के.बी. सिंह ने कहा कि भारी तादाद में श्रद्धालुओं के इस पवित्र नगरी में आने के साथ पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। कई चरण में सुरक्षा का जाल बिछाया गया है और विभिन्न स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि मंदिर के बाहर, तीनों रथों के आसपास, ग्रांड रोड, समुद्र तट, रेलवे स्टेशन और बस अड्डा के पास सुरक्षा कड़ी की गई है और गश्त बढ़ाई गई है। भगदड़ जैसी स्थिति से निपटने के लिए भी कदम उठाए गए हैं।

महत्वपूर्ण स्थानों पर एटीएस, आरएएफ कर्मी और शार्प शूटर तैनात किए गए हैं, जबकि तटरक्षक बल ने समुद्री रास्तों पर पैनी नजर रखी हुई है।