अल्मोड़ा के कोसी नदी पर 35 करोड़ की लागत से बैराज का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। इस बैराज के बनने से नगर व आसपास के इलाकों में पेयजल किल्लत से निजाद मिल रही है। लोगों को अब पानी की समस्या से जूझना नहीं पड़ रहा।

बैराज को देखने के लिए लोग दूर-दराज से कोसी पहुंच रहे हैं। इसकी वजह से अलमोड़ा में पर्यटकों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। पर्यटकों के आने से स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर मिलने की संभावना है।

राज्य सरकार ने इस बैराज में नौकायान की भी योजना बनाई है। अल्मोड़ा नगर में गर्मियों में पेयजल के लिए हाहाकार मचता है। इस बार बैराज बनने से नगर में गर्मियों के पानी की किल्लत नही हुई।

वही कोसी बैराज के बनने से स्थानीय लोगों में काफी खुशी है। लोगों को गर्मियों में पानी के लिए भारी परेशानी का सामना करना पडता था। लोगों ने इसके लिए राज्य सरकार को धन्यवाद दिया है।

लोगों का कहना है कि बैराज के बनने के साथ ही पानी की समस्या से निजात मिली है। साथ ही उन्हें अपने घरों के आसपास रोजगार के अवसर भी मिल रहे हैं।