एंबुलेंस के जरिए कर रहे थे नशे का काला करोबार, हल्द्वानी के तीन युवक धरे गए

सांकेतिक फोटो

नशे के काले कारोबार में लिप्त तस्कर अब एंबुलेंस जैसी इमरजेंसी सेवा का इस्तेमाल करने से भी बाज नहीं आ रहे हैं। तस्करी के लिए इस्तेमाल की जा रही ऐसी ही एक एंबुलेंस को कब्जे में लेकर उधमसिंह नगर पुलिस ने तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है। तीनों तस्कर हल्द्वानी के हैं। उनके कब्जे से 5.8 ग्राम स्मैक बरामद हुई है।

सोमवार को यूपी बॉर्डर पर कोतवाली पुलिस के चेकिंग अभियान के दौरान एंबुलेंस में तस्करों के पकड़े जाने से पुलिस भी हैरत में है।

हूटर बजाते हुए रामपुर की ओर से जा रही एंबुलेंस (UK0G-PA0812) के अंदर बैठे लोगों की हरकतों पर शक हुआ तो पुलिस ने एंबुलेंस ड्राइवर को रुकने का इशारा किया, लेकिन ड्राइवर एंबुलेंस को तेजी से भगा ले जाने की कोशिश करने लगा।

police-arrested-drug-smuggler-from-ambulance

पीछा कर पुलिस ने कुछ ही दूरी पर एंबुलेंस को रोक लिया। चेकिंग की गई तो उसमें मरीज और तीमारदारों की जगह तीन स्मैक तस्कर निकले। इनमें से एक तस्कर बीमार बनकर लेटा हुआ था, दूसरा उसके साथ बैठा था और तीसरा एंबुलेंस चला रहा था। तीनों ही स्मैक के नशे में थे।

पूछताछ में तस्करों ने अपना नाम पता पटेल चौक हल्द्वानी निवासी विशाल जोशी पुत्र प्रमोद जोशी, भोटियापड़ाव हल्द्वानी निवासी विक्की वाल्मीकि पुत्र छब्बू लाल और वारसी कॉलोनी हल्द्वानी निवासी इश्तियाक पुत्र हुसैन बताया। तलाशी लेने पर उनके कब्जे से 5.8 ग्राम स्मैक बरामद हुई। जिसकी कीमत 60 हजार से ज्यादा आंकी जा रही है।

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए स्मैक तस्कर लंबे समय से एंबुलेंस के जरिये मादक पदार्थों की तस्करी कर रहे थे। वे बिलासपुर के शादाब नामक व्यापारी से स्मैक लेकर आ रहे थे। पकड़ने वाली पुलिस टीम में एसआई वीरेंद्र रमोला, एसआई विनोद फर्त्याल, कमलेश भट्ट, सिपाही मोहन रावत, जगदीश सिंह, दीवान सिंह, विजय कुमार, धर्मेंद्र कुमार आदि थे।