मंगलवार 28 जून की रात से 29 जून दोपहर तक हरिद्वार-देहरादून ट्रैक पर गाडर बदलने का काम चलने से इस रूट पर 12 घंटे तक रेलवे ट्रैक बंद रहेगा। इससे राज्य की अस्थायी राजधानी देहरादून को आने-जाने वाली कई ट्रेनें प्रभावित रहेंगी।

बता दें कि साल 2010 में हरिद्वार रेलवे स्टेशन का सुंदरीकरण का काम शुरू किया गया था। उस दौरान हरिद्वार से लेकर देहरादून तक डबल लाइन बनाने का प्रस्ताव भी पास हुआ था।

साथ ही हरिद्वार व देहरादून के बीच रेलवे पुलों की स्थिति में सुधार किया जाना था, लेकिन उस दौरान हरिद्वार-देहरादून ट्रैक बंद करने की अनुमति नहीं मिल पाई थी। इसी कारण मोतीचूर व भीमगोड़ा स्थित रेलवे पुलों पर गाडरों को बदलने का काम नहीं हो पाया था। साल 2012 में गाडर रखवा दिए गए थे, लेकिन बदले नहीं गए।

Haridwar-Railway-Station1

कुछ दिन पहले इसके लिए मुरादाबाद मंडल ने ट्रैक बंद करने के की अनुमति के लिए रेलवे विभाग को चिट्ठी लिखी थी। रेलवे विभाग ने ट्रैक 12 घंटे तक बंद करने की अनुमति दे दी, साथ ही बताया कि 28 जून की रात से ट्रैक बंद किया जाए। इससे लिंक एक्सप्रेस, बांद्रा, उज्जैनी, डीलक्स, शताब्दी एक्सप्रेस, लाहौरी, काठगोदाम, नंदादेवी सहित कई ट्रेनें प्रभावित होंगी।

डीआरएम प्रमोद कुमार ने बताया कि 28 जून की रात 11:40 बजे से 29 जून दोपहर 12 बजे तक ट्रैक बंद रहेगा, इसकी अनुमति मिल गई है। बताया गया कि मोतीचूर में नौ गाडर और भीमगोड़ा में दो गाडर बदलने का काम किया जाएगा। इस दौरान कई ट्रेनों का संचालन हरिद्वार से किया जाएगा।

railway-station

उत्तर रेलवे के सीनियर सेक्शन इंजीनियर कार्य डीएस रावत ने बताया कि भीमगोड़ा, गोसाई गली, नई बस्ती, रामगढ़, कोरादेवी कॉलोनी सहित अन्य क्षेत्रों की बिजली 28 जून की रात 11:40 बजे से 29 जून की दोपहर 12 बजे तक बंद करनी होगी। बताया गया कि 28 को भीमगोड़ा से नई बस्ती जाने वाला रास्ता भी बंद रहेगा।