लियोनेल मेसी की फुटबॉल से संन्यास की घोषणा

अर्जेटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनेल मेसी ने चिली के हाथों कोपा अमेरिका के सौवें संस्करण का खिताबी मुकाबला हारने के बाद हताश होकर अंतर्राष्ट्रीय खेल से संन्यास की घोषणा कर दी है। टूर्नामेंट में रविवार रात को हुए खिताबी मुकाबले में अर्जेटीना को चिली के हाथों पेनल्टी शूटआउट में 2-4 से हार का सामना करना पड़ा था।

मेसी (29) ने रविवार रात कहा, ‘मेरे लिए राष्ट्रीय टीम का साथ यहीं खत्म होता है। मैं जो कर सकता था, मैंने किया। चैंपियन न बन पाने का ख्याल तकलीफ देता है।’

‘बीबीसी’ की रिपोर्ट के अनुसार, बार्सिलोना के साथ मेसी आठ ला लीगा खिताब और चार चैम्पियंस लीग खिताब जीत चुके हैं। हालांकि, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सबसे बड़ा सम्मान उन्हें 2008 ओलम्पिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने पर मिला था।

दो बार कोपा अमेरिका टूर्नामेंट में चिली के हाथों पेनल्टी शूटआउट में हार झेल जुकी अर्जेटीना की टीम को 2014 विश्व कप के फाइनल में जर्मनी से 0-1 से मात मिली थी।

चिली और अर्जेंटीना के बीच कोपा अमेरिका के सौवें संस्करण का फाइनल मुकाबला काफी रोमांचक रहा। मुकाबले के तय समय पर एक भी गोल नहीं हो पाया, जिसके कारण यह मैच पेनल्टी शूटआउट तक पहुंचा।

पेनल्टी शूटआउट में चिली की ओर से दागे गए पांच में से चार गोल लक्ष्य तक पहुंचे, जबकि अर्जेटीना केवल दो ही गोल दागने में कामयाब रहा। मेसी अपने गोल से चूक गए।

अर्जेंटीना की ओर से मेसी पहले गोल दागने आए थे, लेकिन वह लक्ष्य तक नहीं पहुंचा। मेसी ने 2005 में खेल जगत में कदम रखा। वह अर्जेटीना के लिए 112वीं बार खेल रहे थे।

यह लगातार दूसरा कोपा अमेरिका खिताब है, जिसे चिली ने जीता है।