जनपद चिकित्सालयो में सभी चिकित्सकों की तेैनाती जल्द- सुरेन्द्र सिह नेगी

जनपद चिकित्सालयो में सभी चिकित्सकों की तेैनाती कर स्वास्थ सुविधायें मजबूत की जायेंगी,यह बात नैनीताल क्लब में रविवार को स्वास्थ्य मंत्री सुरेन्द्र सिह नेगी ने कुमांउ मंडल के स्वास्थ्य अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेते हुये की। बैठक में श्री नेगी ने कहा कि प्रदेश के हर जिले में खाली पड़े पदों पर डाक्टरों की नियुक्ति की जायेगी तथा चिकित्सालयों में चिकित्सकों के लिये आवास की भी व्यवस्था की जायेगी।

स्वास्थ मंत्री ने कहा कि जनपदों में सरपलस चिकित्सकों को आवश्यकतानुसार अन्य जनपदों में स्थानान्तरण किया जायेगा। सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि ड्रग इंस्पेक्टरों को छापेमारी के दौरान वाहन उपलब्ध करायें। उन्होने कहा कि नये चिकित्सकों को तैनाती के बाद हर जिले में छः माह के लिए वरिष्ठ चिकित्सक के देख रेख में काम करना होगा जिससे नये चिकित्सक काम सीख सकें। मंत्री ने कहा कि प्रदेशभर में माह अगस्त से ब्लाकवार स्कीनिंग कैम्प लगाये जायेंगे जिसमें दो सचल वाहन होंगे, सचल वाहन में फिजिशियन महिला चिकित्सक के साथ ही बाल रोग विशेषज्ञ चलेंगे तो दूसरे वाहन में पैथोलाॅजी लैब के साथ ही एक्सरे मशीन लैब टैक्निशियन व एक चिकित्सक होंगे।

कैम्प में निःशुल्क दवायें वितरित की जायेंगी तथा बड़ी बीमारी व आपरेशन वाले मरीजों को चिन्हित कर उन्हें बड़े चिकित्सालयों में उपचार हेतु भेजा जायेगा। दूसरे माह भी उसी जगह फ्लोअप कैम्प लगाया जायेगा। उन्होंने कहा कि गतवर्ष की भाॅति सभी जनपदों में सर्जिकल कैम्पों का आयोजन भी किया जायेगा। कैम्प लगाने हेतु सभी तैयारियां करने के निर्देश स्वास्थ मंत्री द्वारा चिकित्साधिकारियों को दिये गये। श्री नेगी ने कहा कि चिकित्सालय में शीघ्र सफाई कर्मी,वार्ड ब्वाय व वार्ड आया, की तैनाती आउटसोर्सिंग द्वारा की जायेगी। साथ ही उन्होंने सभी चिकित्सकों को संक्रामक रोगों से बचाव हेतु जनता को सचेत व जागरूक करने के निर्देश भी दिये।

चिकित्सालय में पहुचने वाले मरीजों को बेहतर उपचार दिया जाय, इसके आलावा बीडीपांडे चिकित्सालय में महिला प्राईवेट वार्ड का निर्माण किया जायेगा जिसके लिए शीघ्र ही धनराशि उपलब्ध करा दी जायेगी तथा निदेशक आवास को बहुमंजिला कर निदेशक आवास के साथ ही चिकित्सक आवास बनाये जायेंगे। रैमजे चिकित्सालय परिसर से लगी भूमि में मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय का भी निर्माण का प्रस्ताव बनाने के निर्देश भी दिये गये। साथ ही पटवाडांगर चिकित्सालय भवन का जीर्णोद्धार भी किया जायेगा। चम्पावत, पिथौरागढ़, बागेश्वर में ब्लड बैंक खोले जाने के प्रस्ताव के साथ ही रामनगर, खटीमा ब्लड बैंकों में पद सृजन करते हुये लाइसेंस प्रक्रिया प्रारम्ीा करने के निर्देश भी दिये गये। खटीमा में नये 100 बैड के बने चिकित्सालय में चिकित्सक आवास बनाने का प्रस्ताव देने के निर्देश दिये गये।

बैठक में विधायक/संसदीय सचिव सरिता आर्या, महानिदेशक डा0कुसुम नरियाल, निदेशक डा0 गीता शर्मा सहित अनेक चिकित्साधिकारी उपस्थित थे।