अफगानिस्तान में सोमवार को हुए बम हमलों में लगभग 23 लोगों की मौत हो गई। इनमें एक पूर्व सैनिक सहित दो लोग देहरादून के रहने वाले थे। दोनों बतौर गार्ड एक कंपनी में कार्यरत थे। इसकी जानकारी भारतीय दूतावास ने मृतकों के परिजनों को दी है। बताया जा रहा है कि बुधवार तक शव देहरादून लाए जा सकते हैं।

जानकारी के अनुसार पूर्व सैनिक गणेश थापा (46) पुत्र स्व. किशन बहादुर थापा निवासी पुरोहित वाला नियर बीरपुर गेट गढ़ी कैंट और गोविंद सिंह निवासी चंद्रबनी की मौत अफगानिस्तान हमले में हुई है।

बताया जा रहा है कि हमले में मारे गए 14 लोग नेपाल के थे। गणेश थापा एसआईवीआरई इंटरनेशनल कंपनी में काम करते थे। उनके साथ उनके तीन भाई भी इसी कंपनी में कार्यरत थे। गणेश के बड़े भाई इन दिनों छुट्टी पर देहरादून आए हुए हैं।

जबकि गणेश थापा कुछ दिन पहले छुट्टी काटकर अफगानिस्तान गए थे। गणेश थापा की मौत की खबर अफगानिस्तान में मौजूद उनके दोनों भाइयों ने परिजनों को दी। सूचना मिलने के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।