सांकेतिक फोटो

हरिद्वार जिले के रुड़की में एक वहशी बाप ने अपनी ही नाबालिग बेटी को हवस का शिकार बना दिया। पीड़िता की मौसी ने सिविल लांइस कोतवाली पहुंचकर इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस के अनुसार मामले की जांच की जा रही है। पीड़िता का मेडिकल कराने के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

अस्थायी राजधानी देहरादून में इंदिरा कॉलोनी निवासी नूरी परवीन ने पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि जौरासी गांव में उसका बहनोई मेहताब रहता है, जिसने दो शादी की हैं। पहली शादी से तीन बच्चे हैं, जिसमें एक किशोरी और दो भाई शामिल हैं, जबकि दूसरी पत्नी से उसे कोई संतान नहीं है।

आरोप है कि मई के दूसरे सप्ताह में मेहताब ने अपनी नाबालिग बेटी को हवस का शिकार बनाया। उस दौरान अन्य परिजन कहीं बाहर गए हुए थे।

बेटी ने मां को भी बाप की करतूत से अवगत कराया, लेकिन वह बेबस और लाचार दिखी। दो दिन पहले किशोरी अपनी मौसी के पास अस्थायी राजधानी देहरादून गई थी तो उसने आपबीती सुनाई। इसके बाद रविवार की देर शाम पीड़िता की दून निवासी मौसी ने रुड़की सिविल लाइंस कोतवाली पहुंचकर घटना के संबंध में शिकायत दी।

शिकायत के आधार पर पुलिस ने किशोरी से दुराचार का मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। एसएसआई गोविंद कुमार के अनुसार मामले की जांच की जा रही है। पीड़िता की मेडिकल जांच के बाद जरूरी कार्रवाई की जाएगी।