देहरादून में वन विभाग ने olx.com पर कछुवे का सौदा करने के आरोप में एक युवक को गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ वन विभाग ने वाइल्ड लाइफ एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए एक लाख रुपये का जुर्माना भी वसूला। युवक के पास से तीन शिशु कछुए बरामद हुए, जिन्हें वन कर्मियों ने जंगल में छोड़ दिया है।

एक युवक ने कुछ दिन पहले ओएलएक्स में बिलाल नाम से कछुए बेचने का विज्ञापन पोस्ट किया, जिसमें उसने बताया कि उसके पास इंडियन टेंट टर्टल हैं। जो शेड्यूल-1 का प्राणी है। कोई भी इसे प्रति 3000 रुपये की दर से खरीद सकता है। उसके इस पोस्ट पर वाइल्ड लाइफ के अधिकारियों की नजर पड़ी। युवक को पकड़ने के लिए देहरादून जिले में सहसपुर के प्रभारी एसडीओ डॉ. बृजमोहन डोबरियाल के नेतृत्व में टीम गठित की गई।

टीम ने ओएलएक्स के जरिए युवक से संपर्क साधा। उसे 12 जून को सौदे के लिए देहरादून के सहसपुर कस्बे में बुला लिया। युवक के सहसपुर पहुंचते ही वनकर्मियों ने उसे दबोच लिया। उसके पास से इंडियन रूफ टर्टल प्रजाति के तीन कछुवे बरामद हुए जो कि, शेड्यूल- तीन के प्राणी हैं, जबकि युवक का दावा था कि उसके पास शेड्यूल वन के इंडियन टेंट कछुए हैं।

Indian-Roof-Turtles

डीएफओ कालसी भूमि संरक्षण वन प्रभाग मान सिंह ने बताया कि युवक की पहचान मोहित गर्ग निवासी लक्ष्मणपुर विकासनगर, जिला देहरादून के रूप में हुई है। उसने फर्जी आईडी से पोस्ट डाला था। युवक ने पूछताछ में बताया कि उसने आसपास के क्षेत्र से कछुवे पकड़े थे। बरामद कछुए शैड्यूल वन के बजाय तीन के हैं। युवक को भविष्य में ऐसा करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। इसके साथ ही ओएलएक्स को भी नोटिस जारी किया गया है।