उत्तराखंड की कांग्रेस सरकार और संगठन पदाधिकारियों के बीच जारी कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। मुख्यमंत्री हरीश रावत और संगठन के एक पदाधिकारी की टिप्पणी से आहत पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

हालांकि अभी तक उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया है। वहीं प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय का कहना है कि उन्हें कुछ जानकारी मिली है, लेकिन अभी तक इस्तीफा उन्हें नहीं मिला है। बता दें कि खुद किशोर उपाध्याय भी काफी दिनों से नाराज बताए जा रहे हैं।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक पार्टी की ओर से मंगलवार को प्रदेश कार्यालय में कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें पूर्व मंत्री सपा नेता असलम खान सहित कई लोगों ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। कार्यक्रम के दौरान किसी पदाधिकारी ने प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट से कुछ अभद्रता कर दी।

सूत्रों की मानें तो कार्यक्रम में मौजूद मुख्यमंत्री ने भी कुछ टिप्पणी की, जो प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट को ठीक नहीं लगी। कार्यक्रम खत्म होते ही उन्होंने अपना इस्तीफा सौंप दिया। मामले को सुलझाने की कोशिश की जा रही है।