टिहरी : कीर्तिनगर बनी तहसील, अब नहीं काटने पड़ेंगे देवप्रयाग के चक्कर

टिहरी जिले में कीर्तिनगर को तहसील का दर्जा मिल गया है। नव निर्मित तहसील में 16 पटवारी क्षेत्रों के 159 गांवों को शामिल किया गया है। मंगलवार को कीर्तिनगर को तहसील का दर्जा दिए जाने की अधिसूचना जारी कर दी गई है। अब कीर्तिनगर क्षेत्र के ग्रामीणों को तहसील से निर्गत होने वाले विभिन्न प्रमाण पत्रों के लिए देवप्रयाग के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

कीर्तिनगर क्षेत्र के दूरस्थ ग्राम पंचायत के ग्रामीणों को तहसील संबंधी कार्यों के लिए 100 किमी से भी अधिक का सफर तय करना पड़ता था। सरकार से कीर्तिनगर में तहसील संचालन की अधिसूचना जारी कर दी गई है। क्षेत्र के लोग लंबे समय से तहसील संचालन की मांग कर रहे थे।

राज्य में देवप्रयाग अकेली ऐसी तहसील थी, जिसमें एसडीएम कार्यालय तहसील मुख्यालय से 30 किमी दूर था। तहसील का दर्जा दिए जाने पर स्थानीय निवासियों ने खुशी जताई है। पूर्व जिला पंचायत सदस्य महिपाल बुटोला, राकेश बिष्ट, दिनेश स्नेही, मोहनानंद डोभाल, रघुवीर भंडारी ने मुख्यमंत्री हरीश रावत और कैबिनेट मंत्री – मंत्री प्रसाद नैथानी का आभार जताया।