ओरलैंडो हमला ‘घर में पैदा हुए आतंकवाद’ का स्पष्ट उदाहरण : ओबामा

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सोमवार को कहा कि ओरलैंडो के समलैंगिक क्लब में 49 लोगों की हत्या करने वाला बंदूकधारी ‘इंटरनेट पर प्रसारित चरमपंथ से संबंधी जानकारियों’ से प्रेरित था, लेकिन उसके आईएसआईएस की व्यापक साजिश का हिस्सा होने के संकेत नहीं हैं। ओबामा ने इसे ‘घर में पैदा हुए आतंकवाद’ का स्पष्ट उदाहरण बताया।

अमेरिकी खुफिया एजेंसी एफबीआई के साथ सुबह संक्षिप्त बैठक के बाद ओबामा ने संवाददाताओं से कहा, ‘एक बात जो कही जा सकती है वह यह कि इसे आतंकवादी जांच के तौर पर लिया जा रहा है। ऐसा लगता है कि हमलावर इंटरनेट पर प्रसारित विभिन्न चरमपंथ से संबंधी जानकारियों से प्रेरित था।’

उन्होंने बताया कि फिलहाल सभी सामग्री की छानबीन और पड़ताल की जा रही है, ताकि एफबीआई हत्यारे के हमला करने के फैसले के बारे में बेहतर समझ बना सके।

अमेरिकी खुफिया एजेंसी एफबीआई ने कहा है कि ओरलांडो हमलावर उमर मतीन घर में बढ़ा कट्टर आतंकवादी था, जिसने इंटरनेट पर कट्टरता फैला रखी थी। एफबीआई ने कहा कि वह इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह सहित किसी भी विदेशी वैश्विक आतंकवादी नेटवर्क का सदस्य नहीं था।

एफबीआई के निदेशक जेम्स कोमे ने वाशिंगटन में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘अब तक हमें ऐसे कोई संकेत नहीं मिले हैं, जिससे हम यह कह सकें कि इस गोलीबारी की साजिश बाहरी तत्वों ने रची थी और हमें इस बात के भी कोई संकेत नहीं मिले कि वह (हमलावर) किसी आतंकवादी नेटवर्क का सदस्य था।’

गोलीबारी में 50 लोगों की हुई थी मौत
मतीन के 50 लोगों को मारने और 53 अन्य को घायल करने की घटना के एक दिन बाद कोमे ने कहा कि अब तक हुई जांच से यह पता चला है कि इस वक्त यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है कि वह किसी आतंकवादी संगठन का समर्थन करना चाहता था।

इस बीच, मतीन के पिता ने आज कहा कि उसका बेटा जो साजिश रच रहा था, अगर उस बारे में उसे एक प्रतिशत भी भनक मिलती तो वह खुद अपने बेटे को पुलिस और एफबीआई को सौंप देता ।

सेदिक मीर मतीन ने संवाददाताओं से कहा, ‘मैं एक बार फिर माफी मांगना चाहता हूं। आज सभी अमेरिकी लोगों के लिए यह बहुत दुखद समाचार है। मैं बहुत-बहुत आपे से बाहर हो गया हूं। अगर मुझे जरा भी भनक रहती कि मेरा बेटा इस तरह के अपराध को अंजाम देगा तो मैं खुद उससे निपटता और एफबीआई या स्थानीय कानून प्रवर्तन को फोन करता।’