नैनीताल : पर्यटक दम्पत्ति से बदसलूकी मामले में डीएम दीपक रावत की सफाई, वीडियो देखें

नैनीताल घूमने आए एक दम्पत्ति ने सोमवार शाम डीएम दीपक रावत पर बदसलूकी का आरोप लगाकर सनसनी फैला दी थी। खासकर महिला पर्यटक तो पुलिस के सामने फफक-फफक कर रो पड़ी थीं और उन्होंने मीडिया के सामने डीएम के व्यवहार पर सवाल उठाते हुए फिर कभी नैनीताल नहीं आने की बात कही थी। उत्तरांचल टुडे ने इस मामले में डीएम दीपक रावत से संपर्क करके उनका पक्ष जानना चाहा था और उन्होंने एक वीडियो चैट के जरिए सफाई दी।

डीएम ने कहा कि जिस घटना के बारे में महिला ने जिक्र करके बदसलूकी का आरोप लगाया है वह पूरी कार्रवाई मीडिया के सामने की गई है। उन्होंने बताया कि दम्पत्ति ने गलत जगह, सड़क पर अपनी गाड़ी पार्क की हुई थी और इसमें पहले से ही जैमर लगा हुआ था।

डीएम ने कहा, ‘मैं जब स्पॉट पर पहुंचा तो मैंने इनकी गाड़ी पुलिस को सुपुर्द कर दी कि इनका विधिवत चालान किया जाए, जिस पर इन्होंने ऐतराज जताया। कहने लगे कि गाड़ी छोड़ दी जाए। मैंने मना कर दिया, क्योंकि नैनीताल में आजकल ट्रैफिक बहुत बड़ी समस्या है और ट्रैफिक नियमों का पालन करना बहुत ही जरूरी है। जहां तक बदसलूकी की बात है, इन्हें सिर्फ इतना बताया गया था कि अगर आप सरकारी कार्य में बाधा डालेंगे तो मजबूर होकर हमें आपकी एफआईआर करनी पड़ेगी।’

बता दें कि डीएम रावत अपने सख्त प्रशासनिक रवैये के लिए पूरे जिले में खासे मशहूर हैं। उनका काम करने का अपना ही अलग अंदाज है, लेकिन सोमवार को गाजियाबाद से नैनीताल घूमने आए इस पर्यटक जोड़े ने डीएम के व्यवहार को लेकर जो आरोप लगाया उससे सनसनी फैल गई।