सरोवर नगरी नैनीताल में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन करीब तीन बजे बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। बारिश से पहले यहां तेज आंधी भी चली। आसमान में सुबह से ही हल्के बादल छाये थे। दिन में मौसम सामान्य हो गया, लेकिन शाम तीन बजे के बाद अचानक मौसम ने करवट ली।

देखते ही देखते सवा तीन बजे से तेज हवां चिलने लगी। तेज हवा के कारण नैनी झील में एनसीसी की एक नाव पलट गई। बता दें कि उड़ीसा स्थित चिल्का झील में जल्द ही एनसीसी के कैडेटों की सेलिंग प्रतियोगिता होनी है। इसी के चलते कैडेट झील में नौकायन की ट्रेनिंग ले रहे थे।

कैडेट हंसी रावत को ट्रेनर जोगेंद्र पाल व अमृत पाल ट्रेनिंग दे रहे थे, तभी तेज हवा में उनकी नाव पलट गई और तीनों झील में गिर गए। हालांकि कुछ एनसीसी के अन्य जवानों ने एक दूसरी वोट के जरिए सभी साथियों को बाहर सुरक्षित निकाल लिया। इसके चलते बड़ा हादसा टल गया।

नैनीताल के सीओ राकेश देवली ने बताया कि एनसीसी के अधिकारी अपने केंडिडेट्स को झील में ट्रेनिंग करा रहा थे, तभी यह हादसा हुआ।