रुद्रपुर के फौजी मदकोटा गांव के पूर्व प्रधान की दिनदहाड़े गोली मार कर हत्या

रुद्रपुर के कीतरपुर गांव में दो बदमाशों ने फौजी-मटकोटा गांव के पूर्व प्रधान की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों बदमाश बाइक से फरार हो गए। इस हत्याकांड से इलाके में सनसनी फैल गई। घटना के बाद एसएसपी ने भी मौका-मुआयना किया। हत्याकांड को पुरानी रंजिश से जोड़कर देखा जा रहा है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

रुद्रपुर के कीतरपुर गांव में फौजी मदकोटा गांव के पूर्व प्रधान छोटेलाल ने पार्टनरों के साथ मिलकर साईं विहार नाम से एक कॉलोनी बनाई है। यहां पर उनका कंस्ट्रक्शन साइट का ऑफिस भी है। मंगलवार दोपहर करीब दो बजे वह अपने आफिस में बैठे हुए थे। इस दौरान ऑफिस में काम करने वाला निरंजन कुमार भी वहां मौजूद था। निरंजन ने पुलिस को बताया कि इसी बीच दो लोग ऑफिस में आए।

इनमें एक उनके चैंबर में गया और उनसे हाथ मिलाते हुए बातचीत करने लगा। जबकि दूसरा उनके केबिन के बाहर लगी बैंच में बैठ गया। इस दौरान करीब पांच मिनट तक छोटेलाल और अंदर बैठे व्यक्ति की बातचीत हुई। इसी बीच इस व्यक्ति ने निरंजन से पानी लाने को कहा। निरंजन जैसी ही पानी लाने के लिए बढ़ा तो अंदर बैठे व्यक्ति ने छोटेलाल को गोली मार दी। छटपटाते हुए छोटेलाल केबिन की बाहर की ओर गया तो वहां बैठे दूसरे बदमाश ने उन्हें फिर से एक गोली मार दी। इस पर खून से लथपथ छोटेलाल वहीं गिर पड़े।

निरंजन को धमकाते हुए वहां से फरार हो गए। वहीं छोटेलाल ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना पर एएसपी पंकज भट्ट, सीओ सिटी राजेश भट्ट समेत बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और घटना के संबंध में निरंजन से जानकारी ली। बाद में एसएसपी अनंत शंकर ताकवाले ने भी मौका-मुआयना किया। उन्होंने पुलिस टीम को हमलावरों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। पुलिस टीम और सीआईयू को हमलावरों की पहचान कर उनकी गिरफ्तारी के निर्देशित किया गया है।

(साभार – लाइव हिंदुस्तान)