हरिद्वार जिले में रुड़की के लंढौरा में हुए बवाल के बाद अब कुंवर प्रणव चैंपियन के समर्थकों की ओर से गुरुवार 9 जून को महापंचायत का ऐलान किया गया है। इसके लिए विभिन्न क्षेत्रों में जनसंपर्क अभियान भी शुरू कर दिया गया है।

दावा किया जा रहा है कि महापंचायत में करीब एक लाख लोग हिस्सा लेंगे। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। एक ओर जहां सीमाओं पर चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर क्षेत्र में भी भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

लंढौरा में एक जून को हुए बवाल की आग अभी थमती नजर नहीं आ रही है। मामले में सोमवार को भले ही पुलिस प्रशासन ने कुंवर प्रणव चैंपियन को हाउस अरेस्ट कर समर्थकों के साथ लंढौरा नहीं जाने दिया, लेकिन अब चैंपियन और उनके समर्थकों की ओर से नौ जून को महापंचायत का ऐलान कर दिया गया है। इसके लिए जोरशोर से जनसंपर्क अभियान भी चलाया जा रहा है।

मंगलवार को रोडवेज बस स्टैंड के पास आयोजित पत्रकार वार्ता में चैंपियन समर्थकों ने महापंचायत की बात कही। हालांकि उन्होंने कहा कि अभी इस पर विचार चल रहा है, लेकिन शाम होते-होते महापंचायत की पृष्ठभूमि तैयार हो गई।

स्वयं चैंपियन ने भी इसका ऐलान कर दिया। उन्होंने स्वीकार किया कि 9 जून को सर्वसमाज की महापंचायत की जाएगी। इस संबंध में पुलिस प्रशासन को कोई सूचना नहीं दी गई है और न ही कोई परमिशन ली गई है। दूसरी ओर महापंचायत की भनक लगते ही पुलिस-प्रशासन भी अलर्ट हो गया है।

राज्य की सीमाओं पर पुलिस ने सघन चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान बाहर से आने जाने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। महापंचायत को रोकने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जा रही है।

चैंपियन ने कहा, सांप्रदायिक कांड के जरिए हरीश रावत सरकार ने हमारे आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाया है। आत्मबल को पुन: जीवित करने के लिए 9 जून को सर्वसमाज की महापंचायत की जाएगी। हरीश रावत सरकार अंग्रेजों की तरह कार्य कर रही है इसलिए जिस प्रकार महात्मा गांधी ने नमक सत्याग्रह के लिए अंग्रेजों का कानून तोड़ा था, उसी प्रकार हम भी धारा-144 का उल्लंघन करेंगे। महापंचायत में करीब एक लाख लोग शामिल होंगे।

पुलिस प्रशासन ने बताया कि 9 जून को होने वाली महापंचायत की जानकारी मिली है। इसके लिए एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। फिलहाल किसी ने महापंचायत के लिए पुलिस प्रशासन से अनुमति नहीं मांगी है, लेकिन सुरक्षा के लिए विशेष पुलिस बल की तैनाती की जा रही है।

इसके तहत पुलिस बल के अलावा आरएएफ की दो बटालियन, आईटीबीपी की एक बटालियन और पीएसी की चार बटालियन लगाई गई है। फोर्स को सेक्टर में बांटकर वीडियोग्राफी कराई जाएगी। साथ ही चिह्नित होने वालों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी।

बीजेपी नेता कुंवर प्रणव चैंपियन और उनके समर्थकों की ओर से महापंचायत का ऐलान किए जाने के बाद भी जगह को लेकर असमंजस बरकरार है। चैंपियन के अनुसार महल में ही महापंचायत की जाएगी, जबकि पुलिस को मिली खुफिया जानकारी के अनुसार खानपुर विधानसभा क्षेत्र में गोवर्धनपुर और लक्सर के बीच स्थित गांव में महापंचायत की जानी है।