अंडर-16 इंटर जोन टूर्नामेंट में एक हार और दो ड्रॉ के साथ प्वाइंट टेबिल पर नीचे चल रहे सेंट्रल जोन के कप्तान आर्यन जुयाल ने लगातार दोनों पारियों में अर्द्धशतक जड़कर ईस्ट जोन को आठ विकेट से हरा दिया और अपनी टीम के लिए सात अंक बटोर लिए।

जुयाल की इन पारियों की बदौलत पहले से दो अंक और इन सात अंकों की मदद से सेंट्रल जोन जोनल टूर्नामेंट में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। पहले नंबर पर नॉर्थ जोन है, जिसके 12 अंक हैं। कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन के हुबली मैदान पर सेंट्रल जोन और ईस्ट जोन के बीच खेले गए दो दिवसीय मैच के दूसरे दिन सेंट्रल जोन की टीम पहली पारी में आर्यन जुयाल के 75 रनों की बदौलत 163 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस तरह उसे ईस्ट जोन पर 32 रनों की लीड मिली।

दूसरी पारी में रोहन टोंक की फिरकी (13 ओवर 34 रन पांच विकेट) के आगे ईस्ट जोन के बल्लेबाज ज्यादा देर नहीं टिक सके और 154 रनों पर ऑलआउट हो गए। सेंट्रल जोन को 35 ओवरों में जीतने के लिए 123 रनों की दरकार थी। ऐसे में सेंट्रल जोन के कप्तान आर्यन जुयाल सलामी जोड़ीदार प्रेरित अग्रवाल की जगह अंशुल के साथ ओपनिंग करने उतरे। दोनों ने पहले विकेट के लिए छह रन प्रति ओवर की औसत से 10 ओवरों में 60 रन जड़ दिए।

इस बीच अंशुल 31 रन बनाकर आउट हो गए। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे चंचल भी टिककर नहीं खेल सके और 18 रन बनाकर आउट हो गए। इस बीच मैदान पर बूंदाबांदी शुरू हुई तो सेंट्रल जोन के कोच उस्मान के साथ पूरी टीम को मैच ड्रॉ होने का खतरा महसूस होने लगा। लेकिन इंद्रदेव सेंट्रल जोन की पूरी टीम पर मेहरबान थे।

इसके बाद आर्यन (नाबाद 57 रन) ने पिंच हिटर के रूप में ऊपर भेजे गए मेरठ के कार्तिक त्यागी 18 के साथ मिलकर टीम को जीत दिला दी। कार्तिक ने 28वें ओवर की पहली गेंद पर छक्का मारकर सेंट्रल जोन को मैच जिताया। इससे पहले ईस्ट जोन ने पहली पारी में 131 रन बनाए थे। आर्यन जुयाल ने चार मैचों में एक शतक दो अर्द्धशतक समेत कुल 304 रन बनाए।

हल्द्वानी के आर्यन जुयाल के साथ ही उत्तराखंड से एक और बल्लेबाज आर्यन शर्मा भी सेंट्रल जोन की टीम में शामिल हैं। उन्होंने पहले मैच में नार्थ जोन के खिलाफ जहां 109 रनों की पारी खेली। वहीं आखिरी मैच में ईस्ट जोन के खिलाफ पहली पारी में कप्तान आर्यन जुयाल के साथ महत्वपूर्ण साझेदारी की। इसके अलावा उन्होंने अपनी बेहतरीन फील्डिंग से अपनी उपयोगिता साबित की। कप्तान आर्यन जुयाल ने बताया कि आर्यन शर्मा ने प्रत्येक मैच में 25 से 30 रन रोके होंगे।