मथुरा कांड को लेकर विपक्ष, खासकर बीजेपी के निशाने पर आई उत्तराखंड में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) ने सोमवार को पलटवार करते हुए जवाहर बाग में कथित रूप से नक्सलवादियों की मौजूदगी की सूचना राज्य सरकार से साझा न करने का आरोप लगाते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के इस्तीफे की मांग की।

वरिष्ठ सपा नेता और पूर्व मंत्री अम्बिका चौधरी ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस में आरोप लगाया कि बीजेपी अपने पुराने चरित्र के मुताबिक ‘लाशों पर राजनीति’ कर रही है। उन्होंने कहा, बताया जा रहा है कि जवाहरबाग में झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और उड़ीसा से आए नक्सलवादी रह रहे थे। जाहिर है कि केन्द्र के खुफिया तंत्र को भी यह मालूम होगा। आखिर उसने यह जानकारी राज्य सरकार के साथ क्यों साझा नहीं की। इस नाते केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को इस्तीफा देना चाहिए।

चौधरी ने सीधा आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्रीय गृहमंत्री के परिजन ग्रेटर नोएडा के बिसाहड़ा गांव में हालात बिगाड़ने की कोशिश में शामिल हैं। वे वहां महापंचायत की साजिश कर रहे हैं। दूसरों पर सवाल उठाने से पहले अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। इस वक्त अगर किसी के इस्तीफे की जरूरत है तो वह राजनाथ सिंह के त्यागपत्र की है।

चौधरी ने कहा कि दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता अश्विनी उपाध्याय ने जवाहरबाग कांड की सीबीआई जांच के आदेश देने के आग्रह वाली याचिका दायर की है। दरअसल, बीजेपी अशांति और अराजकता को मजबूत कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने केन्द्र को जवाहरबाग कांड की तथ्यात्मक रिपोर्ट भेजी है। जांच में पता लगेगा कि अवैध कब्जेदारों का वित्तपोषण कौन कर रहा था। साथ ही बाकी खुलासे भी होंगे।