सोमवार को ऑपरेशन ब्लू स्टार की 32वीं बरसी है। इस मौक़े पर अमृतसर के अलावा पंजाब के कई दूसरे हिस्सों में कड़े सुरक्षा इंतज़ाम किए गए हैं। पंजाब पुलिस के अलावा अर्धसैनिक बलों की 15 टुकड़ियां तैनात की गई हैं जिसमें छह अमृतसर और बाक़ी की टुकड़ियों को लुधियाना, जालंधर और पटियाला में तैनात किया गया है।

शहर में शांति व्यवस्था बनी रहे, इसके लिए ऐहतियातन कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। कुछ सिख संगठनों ने बंद भी बुलाया है। हालांकि अमृतसर के पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि किसी भी दुकान को जबरन बंद नहीं करवाया जा सकता है न ही किसी को तलवार भांजने की इजाज़त होगी।

स्वर्ण मंदिर की सुरक्षा भी कड़ी कर दी गई है। अहम जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। पिछले साल स्वर्ण मंदिर में दो गुटों की झड़प में छह लोग ज़ख़्मी हो गए थे। इस बार ऐसी कोई अनहोनी न हो, इसके लिए प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है।

मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने लोगों से शांति बरतने की अपील की है। इस बीच शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने यू-टर्न लेते हुए स्वर्ण मंदिर के कैंपस में मीडियाकवरेज़ को मंज़ूरी दे दी है।