अस्थायी राजधानी देहरादून के कैंट इलाके में पांच लोग एक नाबालिग छात्रा को बहला-फुसलाकर ले गए और उसे नशे में धुत्त कर दिया। हालत बिगड़ी तो आरोपी उसे देर रात भुजियावाला के जंगल में छोड़कर भाग आए।

गैंग रेप की आशंका में का मेडिकल भी कराया गया है, फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार है। पुलिस ने मामला दर्ज कर पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पीड़ित छात्रा कैंट क्षेत्र में अपने नाना के यहां रहकर हाईस्कूल की पढ़ाई कर रही है। गुरुवार शाम को वह अपने सहेली के घर से लौट रही थी। इसी दौरान एक परिचित युवक ने उसे घर छोड़ने के बहाने अपने दुपहिया वाहन बिठा लिया।

युवक ने रास्ते में उसे नशीला पदार्थ पिला दिया, जिससे नाबालिग अपना होश खो बैठी। आरोपी अपने चार अन्य साथियों की मदद से छात्रा को भुजियावाला के जंगल में ले गया। इस बीच छात्रा घर नहीं लौटी तो उसकी तलाश शुरू हुई। परिजनों ने पुलिस को इसकी जानकारी दी।

ज्यादा नशे के कारण छात्रा की हालत बिगड़ने पर डरकर आरोपी उसे जंगल में ही छोड़कर भाग आए। ग्रामीणों ने रात में उसे लावारिस अवस्था में देखा तो पुलिस को इसकी सूचना दी। देर रात उसे दून अस्पताल में भर्ती कराया गया। शुक्रवार को छात्रा को होश आया, तब जाकर पुलिस ने उसके बयान दर्ज किए।

कैंट पुलिस ने पीड़ित नाबालिग के नाना की तरफ से मामला दर्ज कर आरोपी अजय राणा उर्फ ओजो (22) निवासी गढ़ी कैंट, विष्णु मसी (26), सुनील मसी (22) निवासी गजियावाला, आकाश राणा (19) निवासी सर्वेंट क्वार्टर और किशन राणा (22) निवासी गजियावाला को गिरफ्तार कर लिया।

इनमें से एक आरोपी शादीशुदा है, जिसकी बीवी से छात्रा परिचित थी। पुलिस ने परिजनों की अनुमति के बाद छात्रा का मेडिकल भी कराया है। पुलिस का कहना है कि अभी रिपोर्ट नहीं आई है।