देखें- बीजेपी ने अब जारी किया UPCL के एमडी के स्टिंग का वीडियो

भाजपा ने उत्तरांचल पावर कारपोरेशन लिमिटेड (यूपीसीएल) के एमडी एसएस यादव की सीडी सार्वजनिक कर उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया।सीडी में यादव रुपयों से भरा पैकेट उठाकर कमरे के अंदर जाते हुए दिखाई दे रहे हैं। यह सीडी कहां की है? कब बनाई गई? रुपयों से भरा पैकेट उनको कौन दे रहा है? इसका जवाब भाजपा ने तो नहीं दिया। पार्टी की ओर से मांग की गई कि यादव इस बात का जवाब दें कि वह इस सीडी में हैं या नहीं।

अगर हैं तो रुपयों से भरा पैकेट उनके पास कहां से आया? भाजपा ने पूरे मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। भाजपा इससे पहले भी यूपीसीएल में भ्रष्टाचार के मामले उठाती रही है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विनय गोयल ने बुधवार को पार्टी कार्यालय पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान यह सीडी सार्वजनिक की। प्रेस कांफ्रेंस में सीडी चलाकर भी दिखाई गई।
गोयल ने बताया कि उनको यह सीडी किसी शुभचिंतक ने उपलब्ध कराई है।

वीडियो यहां देखें –

उसका नाम इसलिए सार्वजनिक नहीं किया जा रहा है कि इससे उसकी जान का खतरा हो सकता है। गोयल ने अनुमान के आधार पर बताया कि सीडी रुपयों से भरा पैकेट जो यूपीसीएल के एमडी उठाकर ले जा रहे हैं, उसमें करीब पांच लाख रुपये की रकम है।

गोयल ने कहा कि एसएस यादव मुख्यमंत्री हरीश यादव के चहेते अधिकारी हैं। कायदे कानून को ताक पर रखकर उनको यूपीसीएल का एमडी बनाया गया था। ऊर्जा विभाग मुख्यमंत्री के पास है। ऐसे में मुख्यमंत्री हरीश रावत भी इन सवालों का जवाब दें। गोयल ने मांग की कि मामले की जांच भी सीबीआई द्वारा की जानी चाहिए।

प्रमुख सचिव ऊर्जा डा. उमाकांत पंवार का कहना है कि अभी उनको पूरे मामले की जानकारी नहीं है। अगर ऐसी कोई सीडी जारी की गई है तो पहले उसे देखा जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर पूरे मामले की जांच भी कराई जाएगी।