उत्तराखंड बीजेपी के प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू का कहना है कि बीजेपी विधानसभा में बहुमत साबित करने को तैयार है। उनका कहना है कि कांग्रेस और पीडीएफ के कई और नेता बीजेपी के संपर्क में हैं।

उधर, उत्तराखंड बीजेपी के सभी विधायकों ने सेलाकुई में गुरुवार को विधानसभा में होने वाले शक्ति परीक्षण को लेकर मंथन किया, हालांकि बाद में उत्तराखंड हाईकोर्ट ने विश्वास मत हासिल करने के अपनी एकल पीठ के फैसले पर रोक लगा दी। बताया गया कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तराखंड की सियासी हलचल को लेकर दिल्ली में बुधवार रात को एक बैठक बुलाई है।

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद बुधवार को दिल्ली में उत्तराखंड के बीजेपी नेताओं की पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ बैठक हुई। जिसमें राज्य के ताजा राजनीतिक हालात पर बातचीत हुई। इसके लिए दो पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी और भगत सिंह कोश्यारी सहित कई नेता दिल्ली रवाना हुए थे।

राज्य की बदली राजनीतिक परिस्थितियों के बाद राज्य में सरकार गठन को लेकर बीजेपी में भी मंथन किया जा रहा है। जिसके लिए शाह ने 30 मार्च को प्रदेश के मुख्य नेताओं को दिल्ली विचार-विमर्श के लिए बुलाया।

हरिद्वार से सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी दिल्ली पहुंचे। गढ़वाल क्षेत्र में दौरे पर गए बीसी खंडूड़ी भी चमोली से दौरा बीच में छोड़कर दिल्ली रवाना हुए। प्रदेश अध्यक्ष सहित कुछ बड़े नेता भी बुधवार की सुबह दिल्ली रवाना हुए।