उत्तराखंड के सियासी बवाल में बागी कांग्रेस नेताओं को विधानसभा अध्यक्ष ने नोटिस का जवाब देने के लिए शनिवार 26 मार्च तक का समय दिया था, जो आज खत्म हो रहा है। इसी को देखते हुए बागी विधायकों में से कुछ के शुक्रवार देर रात देहरादून पहुंचने की खबर है।

माना जा रहा है कि विधानसभा अध्यक्ष के रुख के चलते इन विधायकों को अस्थायी राजधानी देहरादून की ओर रुख करना पड़ा है। अध्यक्ष ने बागी विधायकों को साफ कहा है कि व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर अपना पक्ष 26 मार्च को प्रस्तुत करें, वरना एक पक्षीय कार्यवाही की जाएगी। इसके लिए शाम पांच बजे तक का समय दिया गया है।

सूत्रों के मुताबिक, कुछ बागी विधायकों की ओर से विधानसभा अध्यक्ष के सामने 26 मार्च को उपस्थित होकर अपना जवाब दिया जा सकता है। इन विधायकों की ओर से ऐसे में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर जवाब देने के लिए अधिक समय दिए जाने की मांग भी की जा सकती है।

इसी संभावना के चलते देर रात तक दून में कुछ बागी विधायकों के पहुंचने की भी संभावना जताई जा रही है। हालांकि बागी विधायक फिलहाल अपनी लोकेशन के बारे में जानकारी देने के लिए तैयार नहीं हैं। विधानसभा अध्यक्ष के इस रुख से साफ है कि वे बागी विधायकों को अधिक समय देने के मूड में नहीं हैं। सात दिन का नोटिस इन्हें पहले ही सर्व किया जा चुका है।