उत्तराखंड सीएम में सियासी हलचल के बीच बीजेपी ने राष्ट्रपति से मुलाकात का वक्त मांगा है। बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने इस संबंध में प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी। शनिवार शाम बीजेपी नेताओं की राष्ट्रपति से मुलाकात संभव है। माना जा रहा है कि स्टिंग के आधार पर बीजेपी राष्ट्रपति शासन की मांग कर सकती है।

उधर स्टिंग जारी होने के बाद मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रेस कांफ्रेंस कर पलटवार किया है। मुख्यमंत्री ने स्टिंग ऑपरेशन को झूठा बताते हुए कहा यह उनके खिलाफ एक साजिश है।

सीएम ने कहा कि स्टिंग करने वाले और बीजेपी दोनों अनैतिक, धनलोलुप हैं। ये राज्य की सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है कि स्टिंग ऑपरेशन ब्लेक मेल करने की साजिश है। यह सीडी झूठ है, जिस व्यक्ति ने इसे बनाया है, उस व्यक्ति की रेपुटेशन किसी से छिपी नहीं है।

इसी के साथ सीएम ने बागी विधायकों पर कहा कि अब वे कांग्रेस के विधायक नहीं हैं और न ही पार्टी में उनके लिए कोई जगह है।