फार्च्यून पत्रिका ने दुनिया के 50 महानतम नेताओं की अपनी सूची में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नाम शामिल किया है। केजरीवाल इस सूची में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय नेता हैं। पहला स्थान अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस को मिला है। पीएम नरेंद्र मोदी को इस सूची में जगह नहीं मिली है।

फार्च्यून की तीसरी सालाना, ‘वर्ल्ड्स 50 ग्रेटेस्ट लीडर्स’ की सूची में दुनियाभर से कारोबार, सरकार, परमार्थ कार्यों और कला के क्षेत्र की उन चुनिंदा हस्तियों को शामिल किया गया है जो ‘दुनिया बदल रहे हैं और दूसरों को ऐसा करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।’ आम आदमी पार्टी के प्रमुख केजरीवाल (47 साल) को 42वां स्थान मिला है और वह सूची में शामिल एकमात्र भारतीय नेता भी हैं।

दक्षिण कैरोलाइना की भारतीय मूल की अमेरिकी गवर्नर निक्की हेली को सूची में 17वां और एक अन्य भारतीय अमेरिकी रेशम सौजानी को 20वां स्थान मिला है। फार्च्यून ने केजरीवाल को नई दिल्ली की सड़कों पर सम-विषम योजना के तहत वाहन संख्या सीमित कर प्रदूषण रोकने के उनके प्रयासों के लिए सूची में शामिल किया है।

पत्रिका ने केजरीवाल की सराहना करते हुए लिखा है, ‘जब केजरीवाल ने धुंध से निपटने के लिए सम-विषम योजना का खाका पेश किया तो कई लोगों ने संदेह जताया। नई दिल्ली को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दुनिया का सर्वाधिक प्रदूषित शहर कहा था। सम-विषम योजना के तहत दिल्ली में सम और विषम नंबर की गाड़ियों को एक-एक दिन के अंतर में सड़कों पर चलाया गया।’

फार्च्यून ने कहा, ‘इस जनवरी में परियोजना के उल्लेखनीय नतीजे मिले.. सड़कों पर वाहनों की भीड़ कम हुई, पार्टिकुलेट वायु प्रदूषण सांद्रण में 13 फीसदी की कमी आई और नागरिकों को सांस लेने के लिए साफ हवा मिली।’ पत्रिका ने कहा कि नेतृत्व का मतलब प्रजानायक होना या लोकप्रियता नहीं होता, बल्कि दुनियाभर के लोगों द्वारा उस तरीके की तारीफ करना होता है, जिसके जरिए आप जीवन को बेहतर बनाते हैं।

अमेरिकी पत्रिका ने केजरीवाल और इटली के रायसी शहर के मेयर डोमेनिको लुकानो का संदर्भ देते हुए कहा, ‘सरकारी अधिकारी ने प्रदूषण से निपटने के लिए अपने करियर को दांव पर लगा दिया, वहीं इतालवी मेयर ने अपने नन्हें शहर में पश्चिम एशिया के प्रवासियों का स्वागत किया।’ लुकानो को सूची में 40वां स्थान मिला है।

पत्रिका में कहा गया है, ‘यहां आप जिन नेताओं से मिलेंगे उन्हें आप जानते हैं और कुछ नए हैं.. ये नेता दुनिया के भविष्य के लिए आपके आकलन को बेहतर बनाएंगे। कुछ आपको उनकी राह पकड़ने के लिए प्रेरित करेंगे। जिन्हें आप नहीं जानते हैं वह प्रेरक नेता के तौर पर शायद आपको आपकी अपनी क्षमता के बारे में फिर सोचने के लिए प्रेरित करेंगे।’

बेजोस पिछले साल भी सूची में शीर्ष पर थे। वह पोप फ्रांसिस के साथ लगातार तीसरी बार सूची में शामिल हुए हैं। पोप फ्रांसिस चौथे स्थान पर और एप्पल के सीईओ टिम कुक पांचवे स्थान पर हैं।

सूची में जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल दूसरे स्थान पर, म्यांमार की लोकतंत्र समर्थक नेता आंग सान सू ची तीसरे स्थान पर, अमेरिकी अंतरिक्षयात्री स्कॉट केली और रूसी अंतरिक्षयात्री मिखाइल कोर्नीएन्को 22वें स्थान पर, आईएमएफ की प्रबंध निदेशक क्रिस्टीन लगार्ड 36वें स्थान पर, बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की सह अध्यक्ष और सीईओ मेलिंडा गेट्स तथा सुजैन डेस्मंड हेलमान 41वें स्थान पर, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडियो 48वें स्थान पर और भूटान के प्रधानमंत्री सेरिंग तोबगे 50वें स्थान पर हैं।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना सूची में 10वें स्थान पर हैं।