अस्थायी राजधानी देहरादून के जौलीग्रांट हवाई अड्डे पर उतरने वाली जेट एयरवेज की उड़ान में मंगलवार को बम होने की सूचना के बाद हड़कंप मच गया। हालांकि बाद में यह सूचना अफवाह निकली।

जौलीग्रांट हवाई अड्डे के निदेशक के कृष्ण कुमार ने बताया कि तलाशी के बाद यह सूचना गलत पाई गई। उड़ान के उतरने के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने उसकी सघन तलाशी ली, लेकिन उसमें कुछ भी नहीं पाया गया।

कृष्ण कुमार ने बताया कि देहरादून में जेट एयरवेज के एक अधिकारी को उसके दिल्ली कार्यालय से सूचना मिली थी कि दिल्ली होते हुए मुंबई से देहरादून आने वाली उड़ान में बम हो सकता है। जेट की यह उडान दोपहर बाद 3.50 बजे पर देहरादून पहुंचती है।

इस सूचना के आधार पर, 148 यात्रियों और चालक दल के आठ सदस्यों को लेकर आ रही उडान को सीधे हवाई अड्डे के आइसोलेशन रनवे में ले जाया गया और सुरक्षाकर्मियों ने उत्तराखंड पुलिस के बम रोधी दस्ते की मदद से उसकी सघन तलाशी की, लेकिन उसमें कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला।