सांकेतिक तस्वीर

उत्तराखंड में सियासी बवाल पूरे शबाब पर है। यहां सरकार पर संकट के बादल भले ही नजर आ रहे हों, लेकिन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने हालात सामान्य रहने का संदेश देने की हर संभव कोशिश की है। यह अलग बात है कि इस कोशिश में शनिवार को दिनभर मंत्रियों से लेकर विधायकों का मुख्यमंत्री के साथ मेल-मिलाप चलता रहा।

28 मार्च से पहले हरीश रावत को सदन में बहुमत सिद्ध करना है। इसके चलते कांग्रेस अपने विधायकों को किसी जगह शिफ्ट कर रही है। बताया जा रहा है सभी कांग्रेस विधायकों को कोटद्वार के रास्ते कार से रामनगर (नैनीताल) ले जाया जा रहा है।

कॉर्बेट नगरी में कांग्रेस नेताओं को किसी रिसोर्ट में रखा जाएगा। रविवार सुबह कोटद्वार से करीब 25 कारों का काफिला गुजरा। बताया जा रहा है इन कारों में कांग्रेस विधायक हैं। सभी विधायकों को एक होटल में रखा गया है। होटल छावनी में बदल दिया गया है।