नई दिल्ली।… तिहाड़ जेल से बाहर आने के बाद जेएनयू के छात्र उमर खालिद ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें जेल जाने का कोई पछतावा नही है। उन्होंने कहा, इस कथित मामले में गिरफ्तार होने का मुझे गर्व है। राजद्रोह के एक मामले में उन्हें जेल हुई थी।

उन्होंने कहा, ‘इस विशेष मामले में जेल जाने का हमें कोई पछतावा नही है। हमें वास्तव में इस बात को लेकर गर्व है कि हमें राजद्रोह के मामले में गिरफ्तार किया गया, एक कानून जिसके तहत अरुंधति रॉय और बिनायक सेन जैसे लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।’

विश्वविद्यालय परिसर में कुछ लोगों के बीच उन्होंने कहा, ‘हमारा नाम उन लोगों की सूची में शामिल हो गया, जिन्हें अपनी आवाज उठाने के कारण जेल जाना पड़ा है।’