‘शक्तिमान’ ने डाला रंग में भंग, बीजेपी नेता गणेश जोशी बोले- गलती पाई गई तो पैर कटवा लूंगा

बीजेपी के घेराव के दौरान घायल ‘शक्तिमान’ घोड़े ने पार्टी के सियासी रंग में भंग डालने का काम किया है। बीजेपी उत्साहित थी कि घेराव ऐतिहासिक रहा, लेकिन घेराव में घायल हुए ‘शक्तिमान’ के चलते अब बीजेपी खुद घिरी नजर आ रही है।

नैनिसार भूमि घपला, आपदा घोटाला, कानून व्यवस्था और विकास जैसे तमाम मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने में जुटी बीजेपी अब घायल शक्तिमान के मसले पर खुद घिरी हुई नजर आ रही है।

हालांकि, बीजेपी विधायक गणेश जोशी इस मामले में अपनी गलती से साफ इंकार कर रहे हैं और उन्होंने तो यहां तक कह दिया है कि अगर उनकी एक फीसदी भी गलती हुई, तो वह अपना एक पैर कटवाने को तैयार हैं।

उत्तराखंड से लेकर दिल्ली तक पार्टी को जवाब देते नहीं बन रहा है कि आखिर क्यों बीजेपी की रैली का खामियाजा एक बेजुबान को भुगतना पड़ा। सदन के भीतर भी इस मुद्दे पर जमकर संग्राम छिड़ा हुआ है।

सरकार और विपक्ष के बीच जमकर आरोप-प्रत्यारोप के तीर चले। आरोप लग रहे हैं कि अगर बीजेपी का प्रदर्शन इतना बेकाबू न होता तो हालात ऐसे न होते। वहीं, विपक्ष भी विधायक पर मुकदमे को सरकार की साजिश करार दे रहा है।

बीजेपी के घेराव का दुखद पहलू एक बेजुबान का घायल होना है, जिसका दुख सभी को है, लेकिन सवाल उठना लाजमी है कि आखिर क्यों एक जनप्रतिनिधि को लाठी उठानी पड़ी और क्या इससे कार्यकर्ता और अधिक आक्रोशित नहीं हुए।