देहरादून: भाजपा विधायक हुये बेकाबू, घोड़े को मार मार कर किया लहूलुहान

भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के इतनी बड़ी संख्या में विधानसभा पहुंचने पर प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए. भारी पुलिसबल और पानी की बौछारों से इस उग्र प्रदर्शन पर काबू पाने की कोशिश की गई.

इस बीच पुलिस और भाजपा की झड़प के बीच एक विधायक काफी उग्र हो गए. मसूरी से भाजपा विधायक गणेश जोशी ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए तैनात अश्व दल में शामिल एक घोड़े शक्तिमान पर ही ताबड़तोड़ लाठियां भांजनी शुरू कर दी.

मिली जानकारी के मुताबिक इस दौरान भाजपा के बाकी कार्यकर्ताओं ने घोड़े की लगाम खींच कर उसे जमीन पर गिरा दिया. घटना के बाद घायल घोड़े को वेटेनरी एम्बुलेंस के जरिए ले जाया गया. इतना ही नहीं, भाजपा विधायक ने एसएसपी का हाथ मरोड़ा और विधायक के साथ आए समर्थकों ने भी पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की.

पुलिस के इस प्यारे घोड़े को शक्तिमान नाम से जाना जाता है. लेकिन अब शायद वह कभी दौड़ नहीं पाएगा. बताया जा रहा है कि पुलिस का शक्तिमान हर पुलिस परे़ड में सलामी में सबसे आगे रहता था. घटना के बाद से पुलिसकर्मी दुखी हैं और इसकी घोर निंदा कर रहे हैं.

भाजपा विधायक और कार्यकर्ताओं की इस हरकत पर सीएम हरीश रावत ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है. सीएम ने कहा है कि आप लोग एक घोड़े को लाठियों से पीटकर अधमरा कर देते हैं? मुझे लगता है कि भाजपा की डिक्‍शनरी में ही ‘सहिष्णुता’ शब्द नहीं है.

वहीं दूसरी ओर, भाजपा विधायक गणेश जोशी ने अपनी सफाई देते हुए कहा है कि पूरे दिन घोड़े को पानी नहीं दिया गया था, जिस कारण वह बेहोश होकर गिर गया.