धार्मिक नगरी हरिद्वार में चल रहे अर्द्धकुंभ मेले के दौरान तीर्थयात्रियों को मिलावटी खाद्य सामग्री परोसी जा रही है। इसकी तस्दीक दो महीने में की गई विभिन्न खाद्य सामग्रियों की सैंपलिंग के दो नमूनों के फेल होने से हो रही है। सक्षम अधिकारी के अनुसार बिस्कुट के सैंपल के लिए शिव दयाल गुप्ता एजेंसी, देहरादून रोड और दूध के लिए कृष्णा डेयरी को नोटिस जारी कर दिया गया है।

दोनों से एक महीने में जवाब दाखिल करने को कहा गया है। अभी मेला काल में लिए गए 23 में से 21 नमूनों की रिपोर्ट आनी बाकी है। अर्द्धकुंभ मेला प्रशासन का स्वास्थ्य महकमा मेले के दौरान कुंभ क्षेत्र में तीर्थ यात्रियों को परोसी जा रही खाद्य सामग्री के खिलाफ रुटीन के साथ ही स्नान, पर्व, त्योहारों के दौरान विशेष अभियान चला रहा है।

स्वास्थ्य विभाग के सक्षम अधिकारी अर्द्धकुंभ जीसी कंडवाल ने बताया कि मेला काल में जनवरी से अब तक तीर्थनगरी और आसपास से विभिन्न खाद्य सामग्री के कुल 23 सैंपल भरे गए। इसमें मसाला, घी, तेल, दूध आदि शामिल हैं। उन्होंने बताया कि सभी नमूने राजकीय खाद्य एवं औषधि विश्लेषण प्रयोगशाला, रुद्रपुर में परीक्षण के लिए भेजे गए। इनमें से दो के परिणाम सामने आएं हैं, जिनमें मिलावट की पुष्टि हुई है।

उन्होंने बताया कि उनके द्वारा प्रत्यावेदन की स्थिति में अन्य प्रयोगशाला से नमूनों की जांच कराने में भी नमूने फेल होते हैं तो विभाग की ओर से संबंधित पक्षों के खिलाफ कोर्ट में केस दायर किया जाएगा। प्रयोगशाला भेजे गए अन्य 21 नमूनों की जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।