Former Prime Minister and president of Nepali Congress Sher Bahadur Deuba

काठमांडू।… नेपाली कांग्रेस के नव-निर्वाचित अध्यक्ष शेर बहादुर देउबा ने गुरुवार को कहा कि पार्टी नए संविधान को लागू करने की जिम्मेदारी उठाएगी। उन्होंने इसके खिलाफ मधेसियों के विरोध का हल निकालने में एक सकारात्मक भूमिका निभाने का वादा किया।

पार्टी से जुड़े संगठन नेपाल स्टूडेंट यूनियन द्वारा काठमांडू में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए देउबा ने कहा कि उनकी पार्टी संविधान को लागू करने की जिम्मेदारी को पूरा करेगी।

तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके 69 वर्षीय देउबा ने कहा कि उनकी पार्टी प्रांतों के सीमांकन सहित मधेसी समुदाय से जुड़ी समस्या का हल करने में एक सकारात्मक भूमिका निभाएगी। वह नेपाली कांग्रेस के नए अध्यक्ष निर्वाचित हुए हैं।

इस बीच, आंदोलनकारी यूनाइटेड डेमोक्रेटिक मधेसी फ्रंट ने कहा है कि वह अपनी मांगों को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को अल्टीमेटम के रूप में एक ज्ञापन सौंपेगा।

सदभावना पार्टी के महासचिव मनीष कुमार सुमन ने बताया कि ज्ञापन का मसौदा तैयार किया गया है, जिस पर शुक्रवार को फ्रंट की बैठक में चर्चा होगी और इसे आखिरी रूप दिया जाएगा। इसमें यूडीएमएफ द्वारा सरकार को सौंपी गई 11 सूत्री मांग का मुद्दा भी शामिल है।