देहरादून को ‘स्मार्ट सिटी’ बनाना चाहते हैं तो सरकार को जल्दी दें अपनी राय

देहरादून स्मार्ट सिटी को लेकर अस्थायी राजधानी के सभी वर्गों के लोग अपनी-अपनी राय रख रहे हैं। आम लोगों की इसी राय के आधार पर ही देहरादून का नया स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट तैयार किया जाना है। सरकार के साथ ही मीडिया घराने भी इस संबंध में लोगों को वोटिंग करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

प्रोजेक्ट के तहत शहर को चार अलग-अलग जोन में बांटा गया है। लोग इन चार जोन में से किसी एक में रेट्रोफिटिंग का विकल्प चुन सकते हैं। इसके अलावा पांचवें विकल्प के तौर पर ग्रीन फील्ड में स्मार्ट सिटी और जोन की रेट्रोफिटिंग चुन सकते हैं। छठा और अंतिम विकल्प रि-डेवलपमेंट का है।

प्रोजेक्ट के नोडल अधिकारी आर. मीनाक्षी सुंदरम ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा लोगों की राय ली जा रही है। एक लाख से ज्यादा लोग अपनी राय देकर स्मार्ट सिटी का चुनाव करेंगे।

इन विकल्पों में से करना है चुनाव
जोन एक
5722 एकड़, सहारनपुर रोड और हरिद्वार रोड के बीच में रेलवे स्टेशन, रेसकोर्स, विधानसभा, डिफेंस कॉलोनी, केदारपुरम, मोथरोवाला, अजबपुर, कारगी, ब्राह्मणवाला, बंजारावाला, आईएसबीटी के नजदीक के क्षेत्र।

जोन दो
4409 एकड़, हरिद्वार रोड से घंटाघर होते हुए राजपुर रोड, कैनाल रोड, सहस्रधारा रोड और रिंग रोड के बीच का पूरा क्षेत्र, डालनवाला, नेहरू कॉलोनी, जोगीवाला, धर्मपुर, केवल विहार, एस्लेहॉल, करनपुर, ईसी रोड, रायपुर और सुभाष रोड के नजदीक के क्षेत्र।

जोन तीन
3433 एकड़, राजपुर रोड, डाइवर्जन रोड, सप्लाई रोड, बिंदाल नदी और चकराता रोड के बीच का क्षेत्र जिसमें डोबालवाला, कालीदास रोड, दिलाराम बाजार, जाखन, कोलागढ़ रोड, किशनगर चौक के पास का क्षेत्र शामिल है।

जोन चार
3788 एकड़, टी स्टेट का 350 एकड़, चकराता रोड, सहारनुपर रोड और शिमला बाईपास रोड के बीच का क्षेत्र, जिसमें घंटाघर, पलटन बाजार, खुड़बुड़ा, झंडा साहिब, लक्ष्मण रोड, इंदिरापुरम, जीएमएस रोड, मोहित नगर, बसंत विहार, राजेंद्र नगर, विजय पार्क, साईं लोक, माजरा आदि।

ग्रीन फील्ड और रेट्रोफिटिंग जोन चार में ही टी एस्टेट का 350 एकड़ क्षेत्र में ग्रीन फील्ड डेवलपमेंट का विकल्प भी दिया गया है। इसका मतलब है कि इस क्षेत्र में नया शहर भी बसाया जाएगा। ग्रीन फील्ड के विकास के साथ ही पहले के चार विकल्पों में से एक का चयन भी करना होगा।