कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को निशाने पर लेते हुए बुधवार को कहा कि लोकसभा चुनावों के दौरान उन्होंने देश की जनता से काला धन वापस लाने का वायदा किया था, लेकिन इसके बदले वह काले धन को ‘गोरा’ करने वाली ‘फेयर एंड लवली’ योजना लाए हैं।

राहुल ने लोकसभा में कहा, 2014 में चुनाव के दौरान मोदी ने कहा था, ‘मैं काला धन खत्म कर दूंगा, काले धन वालों को जेल में डाल दूंगा, लेकिन उनकी यह ‘फेयर एंड लवली’ योजना किसी को जेल में नहीं डालेगी। किसी से कुछ नहीं पूछेगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली जी को टैक्स दीजिए और काला धन सफेद कर लीजिए।’

कांग्रेस नेता ने कहा कि वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा बजट पेश करते समय ‘काले धन को गोरा करने’ की जब इस ‘फेयर एंड लवली’ योजना को उन्होंने सुना, उन्होंने कहा कि इसी तरह ‘लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मोदीजी ने देश से वायदा किया था कि सत्ता में आने पर मैं हर साल दो करोड़ रोजगार दूंगा। मोदीजी क्या बताएंगे कि अभी तक उन्होंने कितने रोजगार दिए।’

उन्होंने कटाक्ष किया कि रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए उन्होंने ‘मेक इन इंडिया’ की योजना बनाई है और उसके प्रतीक के रूप में कल-पुर्जे से सजा काले रंग का एक बड़ा सा बब्बर शेर तैयार कराया है।

राहुल ने कहा, आजकल उनका यह बब्बर शेर हर जगह दिखाई देता है। वह जिस मंच पर जाते हैं, उनकी पृष्ठभूमि में यह खड़ा रहता है। उन्होंने कहा, आपने बब्बर शेर दिया तो दिया, लेकिन रोजगार कितने दिए, यह किसी को मालूम नहीं। किसी के पास कोई आंकड़ा नहीं है। मोदीजी आप ही बताएं कि अभी तक कितने रोजगार दिए।’