‘द ग्रेट खली’ अपनी दूसरी फाइट रविवार को देहरादून के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में लड़ेंगे। फाइट को भव्य बनाने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

स्टेडियम के बीचोंबीच मैदान पर प्रोफेशनल रेसलिंग में इस्तेमाल होने वाला खास तरह का रिंग तैयार बनाया गया है। 15 गुणा 15 वर्ग फुट आकार और आठ फुट ऊंचे इस रिंग पर चौदह देशी-विदेशी रेसलर एक-दूसरे के आमने-सामने होंगे। ब्रॉडी स्‍टील को पटखनी देने के लिए रविवार को एक बार फिर रिंग में उतरेंगे द ग्रेट खली।

रेसलर्स की एंट्री के लिए एक रैंप भी तैयार किया गया है, जिस पर चलकर रेसलर दर्शकों के बीच से होते हुए रिंग तक पहुंचेंगे। इसके अलावा लाइट एंड साउंड इफेक्ट भी इस शो के खास आकर्षण होंगे, जिसके लिए सभी तकनीकी तैयारियां पूरी की गई हैं।

गौरतलब है कि ‘द ग्रेट खली’ हल्द्वानी में हुई पिछली फाइट हार गए थे। यही नहीं, घायल होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था, लेकिन अस्पताल से डिस्चार्ज होकर जिस तरह से उन्होंने दोबारा कनाडाई रेसलर ब्रॉडी स्‍टील को चुनौती दी है, उससे देहरादून में होने वाली फाइट के लिए दर्शकों में भारी रोमांच पैदा हो गया है।

khali-and-brody-fight

माना जा रहा है कि इस बार दर्शकों की तादाद बहुत ज्यादा होगी, जिसे देखते हुए दर्शक दीर्घा में भी पर्याप्त जगह बनाई गई है। शनिवार को राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में ‘द ग्रेट खली रिटर्न्स’ शो की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे खेल मंत्री दिनेश अग्रवाल ने कहा कि राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करने का मौका उत्तराखंड को मिला है। इस शो के जारिए एक तरह से खेलों की तैयारियों की रियल्टी भी चेक की जा रही है और साथ ही युवाओं को खेल के प्रति प्रेरित भी किया जा रहा है।

द ग्रेट खली शो में भारी भीड़ जुटने का अंदाजा लगाया जा रहा है। यही वजह है कि पुलिस ने सुरक्षा के तमाम इंतजाम पुख्ता रखने का दावा किया है। व्यवस्था से लेकर ट्रैफिक प्लान तैयार कर लिया गया है। डीएम और एसएसपी के बीच भी कई दौर की वार्ता हो चुकी है। इतना ही नहीं सुरक्षा के तमाम इंतजाम रखने के लिए अर्द्धकुंभ मे लगी फोर्स को भी बुलाया गया है। एक तरफ जहां डीएम ने अधिकारियों के साथ बैठक करके ब्रीफिंग की, वहीं एसएसपी ने भी एसपी और सीओ के साथ मिलकर तैयारियों पर मंथन किया।