हिन्दुत्व विचारक विनायक दामोदर सावरकर (वीर सावरकर) के भाई द्वारा लिखित एक पुस्तक को शुक्रवार को री-लॉन्च किया गया है। इस किताब में ईसा मसीह के तमिल हिन्दू होने का दावा किया गया है। यह किताब पहली बार 70 साल पहले प्रकाशित हुई थी।

पुस्तक को दोबारा लांच करने के खिलाफ ईसाई संगठनों ने विरोध करने की धमकी दी थी। इसके बावजूद दादर में स्वतंत्र वीर सावरकर नेशनल मेमोरियल में शुक्रवार शाम को इस पुस्तक का फिर से विमोचन किया गया।

अल्फा ओमेगा क्रिश्चियन महासंघ के सदस्यों ने विमोचन स्थल के बाहर इकट्ठा होकर पुस्तक की सामग्री के खिलाफ काले झंडे लेकर प्रदर्शन करने की धमकी दी थी, लेकिन ऐसा कोई प्रदर्शन नहीं हुआ।

सावरकर के बड़े भाई गणेश सावरकर द्वारा लिखी इस पुस्तक का विमोचन हिन्दुत्व विचारक की पुण्यतिथि पर फिर से किया गया। इतिहासकार पांडुरंग बाल्कावडे ने इसे जारी किया।