खूंखार आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) ने फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग और ट्विटर के सीईओ जैक डोरसी को एक नए वीडियो में जान से मारने की धमकी दी है, जिसमें उनकी तस्वीरों को गोलियों से छलनी करके दिखाया गया है। इस वीडियो में इन सोशल मीडिया वेबसाइटों द्वारा अपने मंचों पर आतंकवादी विषय वस्तु को ब्लॉक करने की कोशिश की खिल्ली उड़ाई गई है।

आईएस ने 25 मिनट के वीडियो में दावा किया है कि वे लोग सोशल मीडिया मंचों पर आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले अकाउंटों को बंद करने की कोशिशों के खिलाफ पलटवार कर रहे हैं। वीडियो में ‘टेक उद्यमियों’ को एक सीधी धमकी देते हुए उन्हें अमेरिकी ‘धर्मयोद्धा सरकार’ का सहयोगी बताया गया है।

जुकरबर्ग और डोरसी की तस्वीरें फुटेज में गोलियों से छलनी की हुई देखी जा सकती हैं। ‘द सन’ की खबर के मुताबिक वीडियो का शीषर्क ‘फ्लेम्स ऑफ सपोर्टर्स’ है और इसे खुद को खिलाफत सेना के बेटे बताने वालों के समूह ने जारी किया है। इसमें दोनों लोगों को धमकी दी गई है।

इसमें कहा गया है कि यदि आप एक अकाउंट बंद करोगे तो हम बदले में 10 खोलेंगे और जल्द ही आपका नामोनिशान मिटा दिया जाएगा। एक अन्य स्लाइड में उन्होंने दावा किया किया है कि उन्होंने 10,000 फेसबुक अकाउंट, 150 फेसबुक ग्रुप और 5,000 से अधिक ट्विटर अकाउंट हैक किए हैं।

आईएसआईएस की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर रखने वाले दो विद्वानों ने इस बात की पुष्टि की है कि वीडियो को कुछ सोशल मीडिया मंचों सहित आईएसआईएस के कई मंचों पर पोस्ट किया गया है। फेसबुक की एक प्रवक्ता ने इस हफ्ते की धमकी पर प्रतिक्रिया देने को कहे जाने पर फिलहाल कोई जवाब नहीं दिया। वहीं, ट्विटर के एक प्रवक्ता ने आतंकवाद या हिंसक धमकी वाले अकाउंट को निलंबित करने की कंपनी की नीति को दोहराया।