हरिद्वार जिले के धनौरी क्षेत्र में पशुओं के लिए चारा लेने खेतों में गए एक नाबालिग को गुलदार ने मार डाला। उसका अधखाया शव देर रात गांव से करीब दो किलोमीटर दूर मिला। वन विभाग के कर्मचारियों ने इसकी पुष्टि कर दी है।

जानकारी के अनुसार सोमवार को गांव कोटा मुरादनगर के मुर्सत अली का 12 वर्षीय बेटा सोनू उर्फ शेर अली गांव के अपने दो साथियों फारुख और शम्मून के साथ खेतों में बरसीम लेने गया था। शाम करीब साढ़े पांच बजे बरसीम काटते वक्त गुलदार ने हमला बोला और सोनू को उठाकर ले गया।

दोनों बच्चों ने गांव आकर इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी। इसके बाद ग्रामीणों ने खेतों में पहुंचकर उसकी खोजबीन शुरू की। रात करीब साढ़े दस बजे सोनू का शव गांव से दो किलोमीटर दूर रुड़की वन प्रभाग क्षेत्र के जंगल में मिला। ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी।

सूचना मिलने पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर इकट्ठा हो गए। हजाराग्रंट बीट प्रभारी पंकज शर्मा ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि गुलदार ने सोनू के शरीर को कई जगह से नोंचकर खा लिया था।