उत्तराखंड में असहिष्णुता पर छिड़ी बहस के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री हरीश रावत पर जुबानी हमला बोला है।

भगत सिंह कोश्यारी ने हरीश रावत से कहा है कि अगर वे देशभक्त उत्तराखंड की धरती के सच्चे पुत्र हैं तो राहुल गांधी का साथ देने के बजाय उनके खिलाफ बयान दें। कोश्यारी बोले, हरीश रावत देवभूमि के सच्‍चे पुत्र हैं तो राहुल गांधी के खिलाफ बयान दें।

जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (जेएनयू) मामले को लेकर अब उत्तराखंड की सियासत भी तपने लगी है। सोमवार को जहां एक तरफ मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस मामले को लेकर बीजेपी पर तीखा हमला बोला, वहीं बीजेपी ने भी सीएम हरीश रावत पर पलटवार किया।

बीजेपी सांसद व पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने कहा कि देशद्रोहियों का साथ देने वाली कांग्रेस और वामपंथी दल असहिष्णुता फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि आपातकाल के दौरान कांग्रेस ने जिस तरह से देशभक्तों को जेल के भीतर ठूंसा था, आज कांग्रेस उन दिनों को भूल बैठी है।

कोश्यारी ने कहा कि जिस कैंपस में देश के खिलाफ नारेबाजी की जा रही हो, उसे समर्थन करना देशद्रोह ही माना जाएगा। कोश्यारी ने कहा कि राहुल गांधी के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री हरीश रावत के बयान पर जवाबी पलटवार करते हुए कोश्यारी ने कहा कि पहले तो सीएम हरीश रावत ने ऐसे लोगों के समर्थन से देशभक्त उत्तराखंड राज्य की जनता के बीच एक गलत संदेश दिया है, जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा।

कोश्यारी ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री हरीश रावत इस वीरभूमि के सच्चे पुत्र हैं तो उन्हें कतई ऐसे लोगों का समर्थन नहीं करना चाहिए, बल्कि उन्हें आगे आकर राहुल गांधी के खिलाफ बयान देने चाहिए।