सांकेतिक तस्वीर

पिछले कुछ सालों से देवभूमि उत्तराखंड में भी कई शर्मनाक घटनाएं सामने आ रही हैं। ऊधमसिंह नगर जिले में रुद्रपुर सीओ ने पुलिस टीम के साथ एक टीचर के घर में एक कॉलगर्ल के साथ रंगरेलियां मना रहे चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

पांचों के खिलाफ देह व्यापार का मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। सोमवार देर रात एसएसपी केवल खुराना को मुखबिर ने क्षेत्र में देह व्यापार की सूचना दी।

एसएसपी ने सीओ रुद्रपुर बीएस चौहान को नानकमत्ता भेजा। चौहान ने पुलिस टीम के साथ सितारगंज रोड पर स्थित टीचर कॉलोनी में टीचर प्रिंस चौहान के घर छापा मारा।

घर के अंदर यूपी के कासगंज की एक युवती और चीटर प्रिंस चौहान, मनिंदर सिंह, सन्नी और नितिन कुमार आपत्तिजनक स्थिति में मिले। पुलिस ने सभी को हिरासत में ले लिया। तलाशी लेने पर कमरे से 40 हजार रुपये, आपत्तिजनक सामग्री और कुछ दवाएं भी मिलीं।

पुलिस सभी को हिरासत में लेकर थाने ले गई और मेडिकल करवाकर देह व्यापार अधिनियम की धारा 3/6 के तहत मामला दर्ज कर सभी को मुंसिफ कोर्ट खटीमा में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। मामले की जांच कर रहे सीओ काशीपुर जीसी टम्टा ने बताया कि कॉलगर्ल चार हजार रुपये में तय कर दलाल के जरिए यहां लाई गई थी।

पुलिस टीम में थानाध्यक्ष आरसी तिवारी, एसआई जयपाल सिंह, हेड कांस्टेबल प्रकाश भगत, कांस्टेबल चंद्रशेखर, अवधेश कुमार व महिला कांस्टेबल रेखा भट्ट शामिल थे।