सांकेतिक तस्वीर

काशीपुर में एक युवक पर तीन साल तक युवती के यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज हुआ है। आरोप है कि युवक ने युवती से मंदिर में शादी की और फिर गर्भपात कराके उसे छोड़ दिया। युवती के परिजनों ने उसकी दूसरी जगह शादी कर दी, लेकिन युवक ने वहां से भी युवती का तलाक करा दिया।

इसके बाद भी आरोपी युवक ने युवती को पत्नी बनाकर रखने के नाम पर लगातार उसका शारीरिक शोषण किया। युवती ने युवक पर तीन साल से लगातार शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाकर युवक सहित आधा दर्जन लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है।

आईटीआई थाना क्षेत्र निवासी एक युवती ने पुलिस में दर्ज रिपोर्ट में कहा कि साल 2015 में राजेंद्र पुत्र समरपाल सिंह निवासी सूत मिल ने हरिद्वार के मंशा देवी मंदिर में उसके साथ शादी की।

कुछ समय बाद राजेंद्र की बहन, मां, पिता, भाई और भाभी ने उसपर दबाव डालकर जबरन गर्भपात करा दिया। इसके बाद परिवार के दबाव में राजेंद्र ने उसे छोड़ दिया। युवती ने कहा कि इसके बाद उसके पिता ने उसकी शादी अलीगढ़ के एक युवक से करा दी। यहां भी राजेंद्र ने उसका पीछा नहीं छोड़ा।

राजेंद्र उसे फोन कर अश्लील बातें करता था, जिससे नाराज होकर उसके पति ने उसे तलाक दे दिया। वह अपने पिता के घर आई तो राजेंद्र उसे फिर से शादी करने का झांसा देकर उसका शारीरिक शोषण करता रहा।

अब राजेंद्र और उसके परिजन उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पुलिस ने राजेंद्र, उसके पिता समरपाल सिंह, मां, भाई और भाई की पत्नी के खिलाफ धारा 313, 376, 506 में रिपोर्ट दर्ज कर महिला का मेडिकल कराकर जांच शुरू कर दी है।