मुंबई के गिरगांव चौपाटी पर ‘मेक इन इंडिया’ सप्ताह के तहत रविवार रात हो रहे सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान स्‍टेज पर भीषण आग लग गई। घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। ‘महाराष्ट्र रजनी’ कार्यक्रम के दौरान जब लावणी की प्रस्तुति हो रही थी, उसी दौरान आग लगी।

जिस कार्यक्रम के दौरान यह हादसा हआ, उसे देखने के लिए मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, राज्यपाल सी. विद्यासागर राव, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्‍चन, आमिर खान और अभिनेत्री एवं सांसद हेमा मालिनी के अलावा देश-विदेश के कई लोग भी मौजूद थे। आग लगने के बाद इन सभी को वहां से सुरक्षित निकाल लिया गया।

बताया जा रहा है कि आग स्‍टेज के नीचे से लगनी शुरू हुई। गंभीर बात यह है कि जिस दौरान यह आग लगी, उस दौरान स्‍टेज पर डांस का कार्यक्रम चल रहा था। लेकिन बचाव दल की तुरंत प्रभावी कार्रवाई की वजह से बड़ा हादसा टल गया।

स्‍टेज पर आग बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्‍चन के परफॉर्मेंस के बाद लगी। आग इतनी भयंकर थी कि पूरा स्‍टेज जलकर खाक हो गया। बताया जा रहा है कि तेज हवाओं की वजह से आग ने विकराल रूप लिया। यह स्‍टेज बॉलीवुड सेट डिजाइनर नितिन देसाई द्वारा तैयार किया गया था, जोकि इस घटना के बाद काफी निराश हैं।

घटना के बारे में अभिनेता आमिर खान ने कहा, ‘मैं अपनी मेक-अप वैन में इंतज़ार कर रहा था। मेरी परफॉर्मेंस करीब घंटे भर बाद थी। तभी मेरे स्‍टाफ ने मुझे बताया कि वहां आग लग गई है तो मैं उसे देखने के लिए बाहर आ गया और देखा कि स्‍टेज पर काफी आग लगी हुई थी। तेज हवाएं होने की वजह से आग काफी तेजी से फैली।’

एक चश्‍मदीद ने कहा, ‘जब आग लगी तो कार्यक्रम चल रहा था। हमें आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका।’ घटना को लेकर मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘आज यहां पर एक भव्‍य सांस्‍कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम के दौरान अचानक देखा गया कि स्‍टेज के निचले भाग में आग लग रही है। लिहाजा, तुरंत कलाकारों और अन्‍य सभी लोगों को वहां से निकाला गया। चार दिन पहले ही हमने इसकी एक आपदा प्रबंधन योजना तैयार की थी और इस योजना को तुरंत कार्यान्वित कर सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।’

मुख्यमंत्री ने बताया ‘इस घटना में कोई भी हताहत नहीं हुआ है। मौके पर दमकल विभाग की चार गाड़ियां पहले से ही तैनात थीं। साथ ही अन्‍य 15 फायर टेंडरों को मौके पर भेजकर तुरंत कार्रवाई करते हुए आग पर काबू पा लिया गया। यह आग कैसे लगी, इसकी जांच के लिए जांच कमेटी गठित की जाएगी, जिसके बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।’ घटना के बाद मुख्यमंत्री फडणवीस ने खुद स्थिति का जायजा भी लिया।