देवभूमि उत्तराखंड को वैसे तो साल के बारहों महीने अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है। लेकिन बसंत में इसकी खूबसूरती स्वर्ग की किसी अपसरा से कम नहीं होती। बसंत में यहां का कण-कण महक उठता है, हर डाल पर फूल खिल आते हैं और प्रकृति के इस श्रृगांर में यहां लोग अपने गीत-संगीत और झोड़ा-चांचरी आदि से चार चांद लगा देते हैं।

देवभूमि की खूबसूरती को बयां करता गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगा का यह गीत आपको फिर से पहाड़ों की सैर पर ले जाएगा। अगर आपका बचपन पहाड़ों में प्रकृति के उन नजारों के बीच गुजरा है तो हो सकता है उसको याद करते हुए आपकी आखों से आंसू भी छलक पड़ें।

यह एक ऐसा गीत है, जो उत्तराखंड की खूबसूरती को बयान करते हुए लोगों को उत्तराखंड आने का न्यौता देता है। एक तरह से यह गीत उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा देता महसूस होता है। सुनें पहाड़ों के बसंत की खूबसूरती को बयां करता सुप्रसिद्ध गढ़वाली गायक नरेंद्र सिंह नेगी का ये सुपरहिट गीत…