आईपीएल की नीलामी में एक बार फिर क्रिकेट खिलाड़ियों की मंडी सजी और जमकर बोलियां लगीं। IPL के 8 सीजन बीत चुके हैं और अब फ्रेंचाइजी टीमें भी चालाक हो चली हैं। उन्होंने इस साल की नीलामी में यह दिखा भी दिया। इस बार फ्रेंचाइजी टीमों ने बड़े-बड़े नामों पर दांव नहीं लगाया, बल्कि युवा जोश से भरे उभरते खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ने में ज्यादा रुचि दिखाई। अल्मोड़ा जिले में रानीखेत के मूल निवासी पवन नेगी और पिथौरागढ़ के मूल निवासी व रुड़की में पढ़ने वाले ऋषभ पंत ऐसे ही युवा खिलाड़ी हैं, जिनके लिए फ्रेचाइजियों ने अपनी पोटली खोल दी।

एक नजर उत्तराखंड के इन दोनों खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर जिसके भरोसे फ्रेंचाइजी टीमों ने इनके ऊपर करोड़ों का दांव खेल दिया।

पवन नेगी

pawan-negi1

दिल्ली की ओर से खेलने वाले इस खिलाड़ी ने नीलामी में जिस तरह चौकड़ी भरी उससे बड़े-बड़े दिग्गज भी हैरान रह गए। साल 2016 की नीलामी में नेगी सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी रहे। यही नहीं, पूरी नीलामी के दौरान वह शेन वॉटसन के बाद दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी के तौर पर उभरे। नेगी की बेस प्राइस सिर्फ 30 लाख रुपये रखी गई थी, लेकिन वह 28.33 गुना ज्यादा 8.5 करोड़ रुपये में बिके।

23 साल के पवन नेगी बाएं हाथ से बल्‍लेबाजी और स्पिन गेंदबाजी करते हैं। पवन को हाल ही में टी20 वर्ल्‍डकप की टीम में भी जगह मिली है। इससे पहले नेगी IPL में चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली डेयरडेविल्स का हिस्सा रह चुके हैं। मजेदार बात यह है कि पवन ने अब तक सिर्फ 3 फर्स्ट क्लास मैच, 19 लिस्ट-A के मैच और 56 टी20 मैच खेले हैं। इन 56 टी20 मैचों में उन्होंने 19.16 के औसत से 479 रन (134.92 स्ट्राइक रेट) बनाए हैं। इसमें कोई अर्द्धशतक या शतकीय पारी भी नहीं है। इन 56 टी-20 मैचों में उनके नाम 46 विकेट हैं (बेस्ट 5/22)।

ऋषभ पंत

rishabh-pant

बांग्लादेश में चल रहे अंडर-19 विश्वकप में धमाकेदार प्रदर्शन कर रहे ऋषभ पंत की आईपीएल में बोली भी उनके खेलने के अंदाज में ही तेजी से बढ़ी। इस उभरते विकेटकीपर बल्लेबाज की बेस प्राइस सिर्फ 10 लाख रुपये रखी गई थी लेकिन फ्रेंचाइजियों की नजर में उनकी कीमत कहीं ज्यादा थी और दिल्ली डेयरडेविल्स ने उन्हें 19 गुना ज्यादा कीमत पर 1.9 करोड़ में खरीद लिया।

अंडर-19 वर्ल्डकप में 1 शतक और 2 अर्द्धशतक जड़ चुके ऋषभ बल्ले से जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं। यही नहीं विकेट के पीछे भी उनका प्रदर्शन काबिल-ए-तारीफ है। अब तक 2 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके ऋषभ ने चार पारियों में 36.00 की औसत से 108 रन बनाए हैं, जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 57 रन रहा है।