उत्तराखंड के युवाओं का क्रिकेट में दबदबा लगातार बढ़ता जा रहा है। इन दिनों उत्तराखंड के चार युवा क्रिकेटरों ने खूब धमाल मचाया हुआ है। चाहे बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी, उत्तराखंड के इन युवाओं के जोरदार प्रदर्शन से न सिर्फ उन्हें बल्कि राज्य को भी खूब सुर्खियां मिल रही हैं।

उत्तराखंड की अपनी क्रिकेट एसोसिएशन न होने के कारण राज्य के कई प्रतिभावान खिलाड़ियों को आगे आने का मौका नहीं मिल पा रहा है। इसके बावजूद उत्तराखंड के कुछ ऐसे भी सपूत हैं जो क्रिकेट में खूब चमक रहे हैं। टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हालांकि युवा खिलाड़ी नहीं हैं, लेकिन उत्तराखंड मूल के इस सितारे ने भी सालों से खूब धूम मचाई हुई है।

इनकी है धूम :
महेंद्र सिंह धोनी : टीम इंडिया के सबसे कामयाब कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी का भी उत्तराखंड से गहरा नाता है। धोनी मूल रूप से अल्मोड़ा जिले में लावली गांव के रहने वाले हैं। धोनी की बल्लेबाजी और खासकर कप्तानी के दुनियाभर के क्रिकेट प्रशंसक और जानकार कायल हैं। अपने शांत स्वभाव के लिए उन्हें कैप्टन कूल भी कहा जाता है।

मनीष पांडे : मूल रूप से बागेश्वर जिले के रहने वाले मनीष पांडे को श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए चुना गया है। इससे पहले मनीष आईपीएल में भी शानदार प्रदर्शन से अपना लोहा मनवा चुके हैं। 2009 में मनीष पहले भारतीय खिलाड़ी बने जिन्होंने आईपीएल में शतक जड़ा। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वनडे मुकाबले में पांडे ने नाबाद शतक लगाकर भारत को जीत दिलाई थी।

उन्मुक्त चंद : कुमाऊं के लाल उन्मुक्त चंद ने अपनी बल्लेबाजी से थोड़े ही समय में काफी फैन जुटा लिए थे। उन्मुक्त चंद ने अंडर-19 विश्वकप 2012 में भारतीय टीम की कप्तानी की थी और भारत को शानदार जीत दिलाई थी। साथ ही उंमुक्त आईपीएल में मुंबई इंडियन्स के लिए भी खेल चुके हैं।

ऋषभ पंत : हाल ही में हरिद्वार जिले के रुड़की के रहने वाले ऋषभ पंत ने अंडर-19 विश्व कप में नेपाल के खिलाफ सिर्फ 24 गेंदों में 78 रन बनाकर भारत को जीत दिलाई। इसी मैच में ऋषभ ने अंडर-19 में सबसे तेज 18 गेंदों में 50 रन बनाकर रिकॉर्ड अपने नाम किया। अच्छी बात ये है कि ऋषभ भी उत्तराखंड मूल के ही टीम इंडिया कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की तरह ही विकेटकीपर हैं और उन्हीं की तरह विस्फोटक बल्लेबाजी करते हैं।

पवन नेगी : भारतीय टीम में पवन नेगी को ऑलराउंडर के तौर पर देखा जाता है, जिसका फायदा उनको मिला और उनका श्रीलंका के खिलाफ खेले जाने वाले टी20 मैचों के लिए चयन हुआ है। पवन नेगी अल्मोड़ा जिले के रानीखेत के रहने वाले हैं।