पिथौरागढ़ जिले में ग्राम पंचायत सैनर के कफल्टा गांव के 35 उपभोक्ता आठ साल से लो-वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे हैं। उन्होंने जिलाधिकारी और एग्जक्यूटिव इंजीनियर पिथौरागढ़ को ज्ञापन भेजकर तत्काल समस्या दूर करने की मांग की है।

पुगराऊं घाटी एकता मंच के उपाध्यक्ष अर्जुन रावत के नेतृत्व में भेजे ज्ञापन में कहा है कि गांव में साल 2008 से लो-वोल्टेज की समस्या चल रही है, जिसकी सूचना विभागीय अधिकारियों को कई बार दे दी गई है, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

इलाके में छह विद्युत खंबों की जड़ में जंग लगने से पोल गिरने की कगार पर पहुंच गए हैं। इन खंबों से हर समय करंट का खतरा बना है। नंदी देवी, लक्ष्मण सिंह, मेहर सिंह, जीत राम, बहादुर राम, गंगा राम, मोहन सिंह, कुशी राम, चंद्र प्रकाश, पुष्कर राम, गोपाल राम, प्रेम सिंह रौतेला, होशियार सिंह, गंगा सिंह, भारती देवी, राधा देवी, रजनी देवी, कौशल्या देवी, कुंती देवी, कविता देवी, विमला देवी ने जल्द पोल बदलने और लो-वोल्टेज की समस्या दूर करने की मांग की है।

बेरीनाग विद्युत विभाग के अवर अभियंता बीएस रौतेला का कहना है कि क्षतिग्रस्त पोलों को बदलने के लिए जल्द इस्टीमेट बनाकर भेजा जाएगा और दो माह के भीतर लो-वोल्टेज की समस्या दूर कर दी जाएगी।