किसानों ने अपनी मांगें मनवाने के लिए देहरादून-दिल्ली हाईवे पिछले दो दिनों से बंद किया हुआ था। मंगलवार को ज्वाइंट मजिस्ट्रेट और एसडीएम रुड़की ने मौके पर पहुंचकर किसानों को गुन्ना भुगतान और गन्ना मूल्य बढ़ाने के लिए आश्वासन दिया, जिसके बाद जाम खोला गया।

इससे दिल्ली और उत्तर प्रदेश को जाने वाले यात्रियों ने राहत की सांस ली, लेकिन अब भी किसानों का गुस्सा कम नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि इन पंद्रह दिनों में हमारी मांगें नहीं मानी गई, तो वे देहरादून और दिल्ली की तरफ कूच करने को मजबूर होंगे।

वहीं किसानों ने राज्य सरकार को किसान विरोधी बताया है। उनका कहना है कि राज्य सरकार जिस तरह से अपने विधायकों और मंत्रियों का वेतन बढ़ा रही है, उसी तरह किसानों का भी गन्ना मूल्य बढ़ाना चाहिए। फिलहाल दिल्ली-देहरादून हाईवे खुलने से यात्रियों ने राहत की सांस ली है।