अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन ISIS के साथ कनेक्शन में हरिद्वार जिले में रुड़की के चार स्थानीय युवकों की गिरफ्तारी के बाद सेना के गेट पर आईएसआई का धमकी भरा संदिग्ध पत्र मिलने से बुधवार को हड़कंप मच गया है।

इस चिट्ठी में नसीहत दी गई है कि मुस्लिमों को जितना परेशान करोगे, उतने धमाके किए जाएंगे। सेना की सूचना पर हरकत में आई पुलिस और खुफिया विभाग पत्र की प्रमाणिकता में जुट गई है।

इंटेलिजेंस ब्यूरो ने गणतंत्र दिवस से पहले 19 जनवरी को सोशल मीडिया पर आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़े चार स्थानीय युवकों को गिरफ्तार किया था। इनसे पूछताछ में ट्रेन बम धमाके की साजिश सहित कई सनसनीखेज खुलासे हो चुके हैं।

इसी बीच बुधवार शाम रुड़की मंगलौर गंगनहर पटरी मार्ग की तरफ खुलने वाले सेना के एक गेट के बाहर संदिग्ध पत्र मिलने से हड़कंप मच गया। पत्र में आईएसआई की तरफ से सेना को धमकी दी गई है। लिखा गया गया है कि तुम लोग जितना मुस्लिमों को परेशान करोगे, उतने धमाके होते रहेंगे।

सैन्य अधिकारियों ने इसकी सूचना सिविल पुलिस के अधिकारियों को दे दी है। सूचना पर एसपी देहात, सीओ सहित पुलिस व खुफिया विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और पत्र कब्जे में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस का कहना है कि मामले की जानकारी ली जा रही है।

पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई के नाम से मिली चिट्ठी ने नई हलचल पैदा कर दी है। संदिग्ध चिट्ठी पर न किसी का पता है और न डाकखाने की मुहर है। ऐसे में ये साफ है कि चिट्ठी को कोई संदिग्ध ही गेट पर रखकर गया है।

ये कोई आईएसआई का एजेंट भी हो सकता है। फिलहाल पुलिस और खुफिया विभाग आईएसआई के नाम से चिट्ठी रखने वाले शख्स की तलाश में जुट गया है। एसपी देहात प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि चिट्ठी को गंभीरता से लिया जा रहा है। चिट्ठी सेना के गेट तक कैसे पहुंची और इसका उद्देश्य क्या था, इसकी पूरी पड़ताल की जा रही है।

संदिग्ध चिट्ठी के पीछे की असल कहानी से तो जांच के बाद ही पर्दा उठ पाएगा। मगर आतंकी कनेक्शन में चार युवकों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस और खुफिया विभाग संदिग्धों की तलाश में जुटा है।

संदिग्ध चिट्ठी मिलने पर कई सवाल उठ रहे हैं। चिट्ठी को आईएस मॉडयूल्स की गिरफ्तारी से ध्यान भटकाने की साजिश के तौर पर भी देखा जा रहा है। अधिकारी भी ये बात मान रहे हैं कि ये चिट्ठी पहले से रडार पर चल रहे संदिग्धों से ध्यान हटाने की भी साजिश हो सकती है।